मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना 2023: Kaushal Samvardhan Yojana रजिस्ट्रेशन

Mukhyamantri Kaushal Samvardhan Yojana: जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हमारे देश में बेरोजगारी एक बड़ी समस्या है। केंद्र और राज्य सरकारें समय-समय पर बेरोजगारी दर को कम करने के लिए हर संभव प्रयास करती हैं। बेरोजगारी दर को कम करने के लिए मध्य प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना शुरू की है। क्या आप जानते हैं क्या है ये स्कीम? आप इसके लिए कैसे पंजीकरण कर सकते हैं? पात्रता मानदंड क्या है? इस योजना के लिए कौन से आवश्यक दस्तावेज आवश्यक हैं? यदि आपके पास उत्तर नहीं है, तो चिंता न करें। आज इस लेख के माध्यम से हम आपको कौशल संवर्धन योजना से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। हम आपसे अनुरोध करते हैं कि इस लेख को अंत तक पढ़ें

Mukhyamantri Kaushal Samvardhan Yojana

Table of Contents

मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना के तहत मध्यप्रदेश सरकार राज्य के युवाओं को नि:शुल्क कौशल प्रशिक्षण प्रदान करेगी। सभी बेरोजगार युवा इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं और नि:शुल्क कौशल प्रशिक्षण की सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। इस योजना के माध्यम से सभी बेरोजगार युवाओं को उनके कौशल का विकास कर रोजगार के अवसर प्रदान किये जायेंगे जिससे उनके जीवन स्तर में सुधार होगा। मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना 2023 मध्य प्रदेश कौशल विकास मिशन का एक अभिन्न अंग है। मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना के तहत सरकार का लक्ष्य हर साल ढाई लाख युवाओं को कवर करने का है। यह योजना युवाओं को रोजगार प्राप्त करने में मदद करेगी। इस योजना के तहत मध्यप्रदेश के युवाओं को राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय मानकों के अनुरूप तकनीकी एवं व्यावसायिक कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा।

मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना

मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना के बारे में संक्षिप्त जानकारी

योजना का नामMukhyamantri Kaushal Samvardhan Yojana
लॉन्च की गईमध्य प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थीमध्य प्रदेश के नागरिक
उद्देश्यसभी बेरोजगार युवाओं के कौशल को विकसित करके रोजगार प्राप्त करने में सहायता करना।
CategoryMadhya Pradesh Govt Scheme
टेलीग्राम से जुड़ेंClick to Join
साल2023
योजना उपलब्ध है या नहींउपलब्ध है

मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना 2023 का उद्देश्य

मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना 2023 का मुख्य उद्देश्य मध्यप्रदेश के सभी बेरोजगार युवाओं का कौशल विकास कर उन्हें रोजगार प्राप्त करने में सहायता करना है। इस योजना के तहत, सरकार बेरोजगार युवाओं को नौकरी पाने में मदद करने के लिए मुफ्त प्रशिक्षण प्रदान करेगी, जिससे उन्हें रोजगार ढूँढने में आसानी होगी। राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मानकों के आधार पर कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा, जो सभी बेरोजगार युवाओं के लिए बहुत उपयोगी होगा। यह कौशल प्रशिक्षण सरकार द्वारा नि:शुल्क प्रदान किया जाएगा।

Madhya Pradesh Kaushal Samvardhan Yojana के लाभ तथा विशेषताएं

  • मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना राज्य में बेरोजगार युवाओं को नि:शुल्क कौशल प्रशिक्षण प्रदान करती है।
  • यह योजना 15 दिनों से 9 महीने की अवधि के लिए कौशल प्रशिक्षण प्रदान करती है।
  • योजना का लाभ राज्य के सभी बेरोजगार युवा रोजगार प्राप्त करने के लिए उठा सकते हैं।
  • कौशल संवर्धन योजना को 2023 में लागू करने के लिए सरकार ने कौशल विकास मिशन विभाग का गठन किया है।
  • इस योजना के तहत, सरकार का लक्ष्य हर साल 2.5 lakh युवाओं को कवर करना है।
  • कौशल संवर्धन योजना के माध्यम से सभी बेरोजगार युवाओं के जीवन स्तर में सुधार होगा, उन्हें आत्मनिर्भर बनाया जाएगा।
  • योजनान्तर्गत राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय मानकों के अनुरूप तकनीकी एवं व्यावसायिक कौशल प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा।

मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना course list

NumberSectorModule
1एग्रीकल्चरट्रैक्टर ऑपरेटर (3 माह) माइक्रो इरिगेशन टेक्निशियन (3 माह)
2अपैरल मेड अपस एंड होम फर्निशिंगस्विंग मशीन ऑपरेटर (4 माह) सेल्फ एंप्लॉयड टेलर (5 माह)
3आटोमोटिवटैक्सी ड्राइवर (6 माह) आटोमोटिव सर्विस टेक्निशियन (टू एंड थ्री व्हीलर) (6 माह)
4कैपिटल गुड्समैनुअल मेटल आर्क वेल्डिंग/ शिल्डिंग मेटल आर्क वेल्डर (6 माह) Fitter- इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक असेंबली (6 माह) Fitter- मैकेनिकल असेंबली (6 माह) सीएनसी ऑपरेटर ट्रेनिंग (5 माह)
5कंस्ट्रक्शनअसिस्टेंट इलेक्ट्रीशियन (3 माह) बार वेंडर एंड स्टील फिक्सर (3 माह) मेसन जनरल  (3 माह)  कंस्ट्रक्शन पेंटर एंड डेकोरेटर (3 माह)
6डोमेस्टिक वर्करजनरल हाउस कीपर (2 माह)
7इलेक्ट्रॉनिक्स एंड हार्डवेयरडीटीएच सेट टॉप बॉक्स इंस्टॉलेशन एंड सर्विस टेक्निशियन (2 माह) फील्ड टेक्निशियन- कंप्यूटिंग एंड पेरिफेरल (दो से तीन माह) सीसीटीवी इंस्टॉलेशन टेक्निशियन (दो से तीन माह)  मोबाइल फोन हार्डवेयर रिपेयर टेक्निशियन (दो से तीन माह)  फील्ड टेक्निशियन होम अप्लायंस (दो से तीन माह)
8फूड प्रोसेसिंगपिकल मेकिंग टेक्नीशियन (2 माह) जेम, जेली एंड केचप प्रोसेसिंग टेक्निशियन (2 माह) बेकिंग टेक्नीशियन (2 माह)
9फर्नीचर एंड फिटिंग्सकारपोरेट वुडन फर्नीचर (3 माह)
10ग्रीन जॉब्ससोलर पीवी इंस्टॉलर (सूर्यमित्र) (2 माह  सोलर पीवी इंस्टैलर (इलेक्ट्रिकल) (2 माह)  सोलर पीवी इंस्टलर (सिविल) (2 माह)
11आईटी एंड आईटीईएसडॉमेस्टिक डाटा एंट्री ऑपरेटर (3 माह)
12प्लंबिंगप्लंबर जनरल (4 माह)
13रिटेलरिटेल ट्रेनी एसोसिएट (2 माह) रिटेल सेल्स एसोसिएट (2 माह) डिस्ट्रीब्यूटर सेल्समैन (2 माह)
14सिक्योरिटीUnarmed सिक्योरिटी गार्ड (2 माह)
15टेलीकॉमटेलीकॉम टावर टेक्निशियन (3 माह) ऑप्टिकल फाइबर टेक्निशियन (4 माह)
16टूरिज्म एंड हॉस्पिटैलिटीट्रैवल कंसलटेंट (2 माह)
17बैंकिंग फाइनेंशियल सर्विसेज एंड इंश्योरेंस (बीएफएसआई)अकाउंट एग्जीक्यूटिव (2 माह) लाइफ इंश्योरेंस एजेंट (3 माह)

Mukhyamantri Kaushal Samvardhan Yojana 2023 की पात्रता

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए अभ्यर्थी को मध्यप्रदेश का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है।
  • इस योजना के लिए पात्र होने के लिए उम्मीदवार की आयु कम से कम 15 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए।
  • एनएसक्यूएफ पाठ्यक्रमों के लिए आवश्यक न्यूनतम शैक्षिक योग्यता भारत सरकार द्वारा निर्दिष्ट पाठ्यक्रमों के अनुसार है।

मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना 2023 के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • विकलांगता प्रमाण पत्र (विकलांगता के मामले में)
  • स्कूल/कॉलेज से सर्टिफिकेट

मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना 2023 में आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप Mukhyamantri Kaushal Samvardhan Yojana में आवेदन करना चाहते हैं तो आपको नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा।

ओटीपी के माध्यम से

  • होमपेज लोड होने के बाद, आपको कैंडिडेट रजिस्ट्रेशन के लिए लिंक ढूंढना होगा और उस पर क्लिक करना होगा।
  • यह पंजीकरण फॉर्म के साथ एक नई विंडो खोलेगा, जिसे आपको पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, आधार संख्या और पता भरना होगा।
  • इसके बाद आपको ओटीपी वेरिफिकेशन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • आधार के साथ आपके लिंक्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजा जाएगा, जिसे आपको ओटीपी बॉक्स में दर्ज करना होगा।
  • सबमिट विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपको एक रजिस्ट्रेशन आईडी और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  • लॉग इन करने और अपना ऑनलाइन आवेदन पत्र भरने के लिए इस पंजीकरण आईडी और पासवर्ड का उपयोग करें।
  • इन चरणों का पालन करने से मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना के लिए आपका आवेदन पूरा हो जाएगा।

बायोमेट्रिक के माध्यम से

  • सबसे पहले, आपको मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • एक बार जब आप होमपेज पर पहुंच जाते हैं, तो उम्मीदवार पंजीकरण लिंक देखें और उस पर क्लिक करें।
  • पंजीकरण फॉर्म के साथ एक नई विंडो खुलेगी।
  • आपको पंजीकरण फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे नाम, आधार संख्या, पता आदि को भरना होगा।
  • इसके बाद बायोमेट्रिक विकल्पों पर क्लिक करें।
  • लाइट चालू होने पर आपको अपने USB बायोमेट्रिक डिवाइस को कनेक्ट करना होगा और उस पर अपनी कोई भी उंगली रखनी होगी।
  • इस तरह आपकी जानकारी आधार सर्वर से प्राप्त हो जाएगी।
  • सबमिट विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपको अपना रजिस्ट्रेशन आईडी और पासवर्ड प्राप्त होगा।
  • आप लॉग इन करने और अपना ऑनलाइन आवेदन पत्र भरने के लिए इस पंजीकरण आईडी और पासवर्ड का उपयोग कर सकते हैं।
  • इस तरह आपका मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना के लिए आवेदन पूरा हो जाएगा।

FAQ related Mukhyamantri Kaushal Samvardhan Yojana

मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना क्या है?

मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना देश के युवाओं को प्रशिक्षण और रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक कौशल विकास योजना है।

योजना के लिए कौन पात्र है?

यह योजना 14 से 35 वर्ष के बीच के सभी भारतीय नागरिकों के लिए खुली है, जिन्होंने कम से कम 10वीं कक्षा उत्तीर्ण की है।

इस योजना के तहत किस प्रकार का प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है?

इस योजना के तहत, उम्मीदवार आईटी, स्वास्थ्य सेवा, आतिथ्य, निर्माण आदि जैसे विभिन्न क्षेत्रों में प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते हैं।

प्रशिक्षण की अवधि क्या है?

प्रशिक्षण की अवधि पाठ्यक्रम से पाठ्यक्रम में भिन्न होती है। यह कुछ हफ्तों से लेकर कुछ महीनों तक हो सकता है।

क्या प्रशिक्षण के लिए कोई शुल्क है?

नहीं, उम्मीदवारों के लिए प्रशिक्षण पूरी तरह से निःशुल्क है।

मैं योजना के लिए कैसे आवेदन कर सकता हूं?

आप मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर और खुद को एक उम्मीदवार के रूप में पंजीकृत करके योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।

पंजीकरण प्रक्रिया के लिए किन दस्तावेजों की आवश्यकता है?

पंजीकरण के लिए आपको अपना नाम, आधार संख्या, पता और अन्य आवश्यक विवरण प्रदान करने की आवश्यकता होगी। आपको अपने आधार कार्ड की स्कैन कॉपी भी अटैच करनी होगी।

मुझे कैसे पता चलेगा कि मुझे प्रशिक्षण कार्यक्रम के लिए चुना गया है?

पंजीकरण प्रक्रिया पूरी करने के बाद, आपको एक पंजीकरण आईडी और पासवर्ड प्राप्त होगा। आप इन क्रेडेंशियल्स का उपयोग करके पोर्टल में लॉग इन कर सकते हैं और अपने आवेदन की स्थिति की जांच कर सकते हैं।

क्या ट्रेनिंग पूरी करने के बाद मुझे नौकरी मिलेगी?

योजना का उद्देश्य देश के युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करना है। हालांकि, प्रशिक्षण पूरा करने के बाद नौकरी की कोई गारंटी नहीं है।

Leave a Comment