राजस्थान अम्बेडकर DBT Voucher योजना 2023: पात्रता, लाभार्थी सूची, और आवेदन फॉर्म

Rajasthan Ambedkar DBT Voucher Yojana: देश में कई छात्र हैं जो शिक्षा प्राप्त करने के लिए अपने घर से दूर रहते हैं। राजस्थान सरकार ने ऐसे सभी छात्रों के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाओं का आयोजन किया है। इस लेख में हम आपको एक ऐसी योजना के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं, जिसका नाम है ‘राजस्थान अम्बेडकर DBT Voucher योजना 2023‘। इस योजना के माध्यम से छात्रों को आवासीय सुविधाओं के लिए वाउचर प्रदान किया जाएगा। इस लेख में आपको इस योजना से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी, जैसे कि ‘राजस्थान अम्बेडकर DBT Voucher योजना’ क्या है, इसका उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज़, और आवेदन प्रक्रिया।

राजस्थान महंगाई राहत कैंप 

Rajasthan Ambedkar DBT Voucher Yojana

राजस्थान सरकार द्वारा आरक्षित वर्ग (एससी, एसटी, ओबीसी, एमबीसी, ईडब्ल्यूएस) के कॉलेजों में पढ़ाई कर रहे छात्रों के लिए राजस्थान अंबेडकर डीबीटी वाउचर योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के तहत, आरक्षित वर्ग के छात्रों को आवासीय सुविधा के लिए वाउचर प्रदान किया जाएगा। यदि छात्र संभागीय मुख्यालय पर आवास करता है, तो उन्हें ₹7000 प्रतिमाह और अन्य जिला मुख्यालय पर आवास करते हैं तो ₹5000 प्रतिमाह की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। यह योजना मेरिट के आधार पर 10 महीनों के लिए 5000 छात्रों को वाउचर प्रदान करेगी। इसका लाभ केवल वही छात्र उठा सकेंगे जो अपने घर से दूर शहरी क्षेत्रों में शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं

अम्बेडकर डीबीटी वाउचर योजना
अम्बेडकर डीबीटी वाउचर योजना

राजस्थान अम्बेडकर डीबीटी वाउचर योजना 2023 का संक्षिप्त विवरण

योजना का नामराजस्थान अंबेडकर डीवीडी वाउचर योजना
किसने आरंभ कीराजस्थान सरकार
लाभार्थीराजस्थान के आरक्षित वर्ग के छात्र
Category Rajasthan Govt Scheme
उद्देश्यआवासीय सुविधा के लिए वाउचर प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइटजल्द लॉन्च की जाएगी
साल2023
आवेदन का प्रकारऑनलाइन/ऑफलाइन
आर्थिक सहायता₹5000 एवं ₹7000
लाभार्थियों की संख्या5000

अम्बेडकर DBT Voucher योजना 2023 का उद्देश्य

राजस्थान अंबेडकर डीबीटी वाउचर योजना का मुख्य उद्देश्य, आरक्षित कॉलेजों में पढ़ रहे आरक्षित वर्ग के छात्रों को आवासीय सुविधा के लिए वाउचर प्रदान करना है। इस योजना के तहत, राजस्थान के छात्रों को ₹5000 से ₹7000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी, जो उन्हें आवास सुविधा के लिए उपयोगी होगी। इस योजना के माध्यम से राजस्थान के छात्रों को अपने घर से दूर पढ़ाई करने के लिए आवास प्राप्त होगा, जिससे उन्हें बिना किसी चिंता के अपनी शिक्षा पूरी करने में सक्षमता मिलेगी। इस योजना के माध्यम से छात्र स्वायत्तता एवं सशक्तिकरण को बढ़ावा देंगे और प्रदेश की शिक्षा एवं रोजगार दर में भी सुधार होगा।

राजस्थान रोडवेज में बिना परीक्षा होगी सीधी भर्ती

अम्बेडकर डीबीटी वाउचर योजना के लाभ प्राप्त करने के लिए महत्वपूर्ण बिंदु

राजस्थान अंबेडकर डीबीडी वाउचर योजना” का शुभारंभ प्रदेश के 2021-22 बजट में किया गया था। इस योजना का कार्यान्वयन सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा होगा। यह योजना शैक्षणिक स्तर 2021–22 से शुरू की जाएगी। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए उन छात्रों को ही पात्र माना जाएगा जो स्नातक और स्नातकोत्तर कक्षाओं में नियमित रूप से अध्ययनरत हैं। सरकारी छात्रावासों में निवास करने वाले छात्र इस योजना का लाभ नहीं प्राप्त कर सकते हैं। रेगुलर पढ़ाई नहीं कर रहे छात्र भी राजस्थान अंबेडकर DBT Voucher योजना का लाभ नहीं प्राप्त कर सकते।

इस योजना के तहत, गत प्रतिशत में कम से कम 75% अंक प्राप्त करने वाले 5000 छात्रों को ही योजना का लाभ मिलेगा। आप भी इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो जल्द से जल्द आवेदन करना होगा। लाभ की राशि सीधे छात्र के बैंक खाते में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से पहुंचाई जाएगी।

कैसे मिलेगी सहायता राशि

योजना के अनुसार, आवेदक को उस नगर परिषद या नगर पालिका के निवासी होना अनिवार्य है, जिस जिले के राजकीय महाविद्यालय में वह अध्ययनरत है। यदि छात्र के अभिभावकों या माता-पिता के पास उसी शहर या स्थान में स्वयं का मकान है, जहां उनका अध्ययन चल रहा है, तो उस छात्र को इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा। सभी छात्र ई-मित्र या एसएसओ आईडी पोर्टल के माध्यम से आवेदन करके राजस्थान अंबेडकर डीबीटी वाउचर योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। योजना के लाभ के लिए, छात्र के अध्ययनरत महाविद्यालय द्वारा ऑनलाइन सबमिट किए गए आवेदन पत्रों की जांच की जाएगी। अवधि के उपरांत, यदि आवेदन पत्र सही और पूरा पाया जाता है, तो उसे स्वीकृत अधिकारी को भेजा जाएगा। अधिकारी द्वारा आवेदन पत्रों की ऑनलाइन मंजूरी दी जाने के बाद, लाभ की राशि का भुगतान लाभार्थी के खाते में डीबीटी के माध्यम से सीधे किया जाएगा।

Rajasthan Ambedkar DBT Voucher Yojana 2023 के लाभ तथा विशेषताएं

  • योजना का आरंभकर्ता: राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी द्वारा योजना की शुरुआत की गई है।
  • लाभार्थियों का उद्देश्य: योजना के माध्यम से, राजस्थान के आरक्षित वर्ग के कॉलेजों में अध्ययनरत आरक्षित वर्ग के छात्रों को आवासीय सुविधा के लिए वाउचर प्रदान किया जाएगा।
  • आर्थिक सहायता: योजना के तहत, यदि छात्र संभागीय मुख्यालय पर आवास करता है, तो उसे ₹7000 प्रति माह की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। और यदि छात्र जिला मुख्यालय पर आवास करता है, तो उसे ₹5000 प्रति माह की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • छात्रों की संख्या: इस योजना के तहत, मेरिट के आधार पर 5000 छात्रों को 10 माह के लिए वाउचर प्रदान किए जाएंगे।
  • पात्रता मानदंड: योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए, छात्र को शिक्षा प्राप्त करने के लिए अपने घर से दूर शहरी क्षेत्र में रहना चाहिए। केवल उन छात्रों को योजना का लाभ प्राप्त करने की अनुमति होगी जो सरकार द्वारा संचालित छात्रावासों में निवास कर रहे हैं।
  • न्यूनतम प्रतिशत: इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए, छात्रों को अपनी परीक्षाओं में न्यूनतम 75% अंक प्राप्त करने चाहिए। यह योजना केवल 5000 छात्रों को ही प्रदान की जाएगी जो इस मेरिट के मानदंड को पूरा करते हैं।
  • नियंत्रण एवं संचालन: योजना का संचालन सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा किया जाएगा। इस विभाग को योजना के प्रबंधन, निगरानी और आवश्यक नियमों के पालन का जिम्मा सौंपा जाएगा।
  • शैक्षणिक वर्ष: योजना का आरंभ 2021-22 शैक्षणिक वर्ष में किया जाएगा। इसका अर्थ है कि स्नातक और स्नातकोत्तर कक्षाओं में नियमित रूप से अध्ययनरत छात्र ही इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकेंगे।

अंबेडकर डीबीटी वाउचर योजना की पात्रता

  • आवेदक राजस्थान का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक स्नातक या फिर स्नातकोत्तर कक्षा में नियमित रूप से अध्ययनरत होना चाहिए।
  • सरकार की ओर से संचालित छात्रावासों में रहने वाले छात्र इस योजना के पात्र नहीं हैं।
  • गत प्रतिशत न्यूनतम 75% अंक हासिल करने वाले 5000 छात्रों को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • केवल वही छात्र इस योजना का लाभ प्राप्त सकेंगे जो शिक्षा प्राप्त करने के लिए अपने घरबार दूर शहरी क्षेत्रों में रहते है।
  • केवल आरक्षित वर्ग के कॉलेजों में पढ़ाई कर रहे आरक्षित वर्ग के छात्र ही इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकेंगे।

अंबेडकर डीबीटी वाउचर योजना के लाभ के लिए क्या डॉक्यूमेंट चाहिए ?

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक खाते का विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

अम्बेडकर DBT Voucher योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया

  • राजस्थान एसएसओ (Rajasthan SSO) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • होमपेज पर आपको “रजिस्ट्रेशन” विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अगले पेज पर आपको “सिटीजन” विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको नीचे दिए गए विकल्पों में से किसी एक का चयन करना होगा – जैसे जनाधार, भामाशाह, फेसबुक या गूगल।
  • चयन करने के बाद, आपको एक नया पेज दिखाई देगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गई जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • उसके बाद, आपको “रजिस्टर” विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • आपको लॉगिन करने के लिए कहा जाएगा।
  • लॉगिन करने के बाद, आपको “राजस्थान अंबेडकर डीबीटी वाउचर योजना” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म दिखाई देगा।
  • आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी
  •  महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार अब राजस्थान अंबेडकर डीबीटी वाउचर योजना के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे।

FAQs

अम्बेडकर डीबीटी वाउचर योजना क्या है?

अम्बेडकर डीबीटी वाउचर योजना के तहत कॉलेज विद्यार्थियों को 7000 रुपए या 5000 रुपए प्रतिमाह 10 महीनों के मकान के किराए के लिए डीबीटी वाउचर के रूप में प्रदान किए जाएंगे। कुल मिलाकर लाभार्थी को प्रतिवर्ष 70000 रुपए या 50000 रुपए की लाभ राशि प्रदान की जाएगी।

डीबीटी योजना के लिए कौन पात्र हैं?

 अंडर ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन (आर्ट्स, कॉमर्स व साइंस स्ट्रीम) कक्षा में रेगुलर मोड से पढ़ाई करता हो। वे छात्र जो रेगुलर पढ़ाई नहीं कर रहे हैं वह इस योजना के तहत लाभ नहीं ले सकते। – सरकार की ओर से संचालित छात्रावासों में रहने वाले छात्र इस योजना के पात्र नहीं हैं

Leave a Comment