✅राजस्थान सौर कृषि आजीविका योजना: बंजर जमीन पर सोलर लगवा कर करें लाखों की कमाई

Saur Krishi Aajeevika Yojana:- किसानों की आय बढ़ाने के लिए राजस्थान सरकार द्वारा एक नई योजना की शुरुआत की गई है। जिसका नाम सौर कृषि आजीविका योजना (SKAY) है। इस योजना के तहत किसान अपनी बंजर और अनुपयोगी जमीन पर सोलर प्लांट लगवा कर अच्छा पैसा कमा सकते हैं। राजस्थान में सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने के लिए Saur Krishi Aajeevika Yojana Portal को राज्य में 17 अक्टूबर 2022 को ऊर्जा मंत्री भवन भवन सिंह भाटी द्वारा लांच किया गया है। सौर कृषि आजीविका योजना से जुड़ने के लिए राज्य सरकार ने एक पोर्टल तैयार किया है। जहां किसान अपना रजिस्ट्रेशन करके अपने दस्तावेज अपलोड करके अंशदान दे सकते हैं। इसके अलावा सोलर एनर्जी प्लांट लगाने वाले डेवलपर से भी जुड़ सकते हैं। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से SKAY Yojana Portal से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराएंगे ताकि आप भी अपनी बंजर जमीन पर सोलर प्लांट लगवा कर अच्छा पैसा कमा सके।

राजस्थान फ्री लैपटॉप योजना 2023

Table of Contents

सौर कृषि आजीविका योजना  (SKAY) 2023

विकेंद्रीकृत सौर ऊर्जा संयंत्र को बढ़ावा देने के उद्देश्य से राजस्थान सरकार ने सौर ऊर्जा आजीविका योजना या “SKAY” योजना की शुरुआत की है। Saur Krishi Aajeevika Yojana के तहत सरकार किसानों की बंजर/अनुपयोगी भूमि लीज पर लेगी और उस पर सौर ऊर्जा संयंत्र लगाएगी। किसानों की बंजर अनुपयोगी भूमि पर सरकार की ओर से किराया दिया जाएगा। जिसके माध्यम से किसान अपनी बंजर और अनुपयोगी जमीन पर सोलर प्लांट लगवा कर अच्छा पैसा कमा सकते हैं। इस योजना के माध्यम से किसान अतिरिक्त कमाई कर सकते हैं। राजस्थान सरकार ने एक आधिकारिक वेबसाइट www.skayrajasthan.org.in भी लॉन्च की है जो किसानों और डेवलपरों को एक ही मंच पर लाती है। राजस्थान सरकार द्वारा चलाई जा रही एक योजना के तहत अब तक कुल 7217 किसान इस से जुड़ चुके हैं। इस योजना के लिए 34621 से अधिक लोगों ने पोर्टल पर विजिट कर चुके हैं

भू नक्शा राजस्थान 2023 कैसे देखें

राजस्थान सौर कृषि आजीविका योजना 2023 का विवरण

योजना का नामSaur Krishi Aajeevika Yojana
शुरुआत की गईराजस्थान सरकार द्वारा
लाभार्थीराज्य का कोई भी किसान या भूमि मालिक
उद्देश्यबंजर भूमि को लीज/किराए पर देने का अवसर देकर राज्य के प्रचुर भूमि संसाधनों का उपयोग करना
राज्यराजस्थान
केटेगरी Rajasthan Govt Scheme
साल2023
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइटhttps://www.skayrajasthan.org.in/
Saur Krishi Aajeevika Yojana
Saur Krishi Aajeevika Yojana

Saur Krishi Aajeevika Yojana का उद्देश्य

सौर कृषि आजीविका योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य किसानों को सौर ऊर्जा संयंत्र की स्थापना के लिए पूर्व निर्धारित राशि के आधार पर बंजर भूमि को लीज/किराए पर देने का अवसर देकर राज्य के प्रचुर भूमि संसाधनों का उपयोग करना है। जिसके लिए राजस्थान डिस्कॉम्स ने एक ऑनलाइन पोर्टल विकसित किया है। Saur Krishi Aajeevika Portal के माध्यम से ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने के लिए किसान अपनी जमीन को लीज पर देने के लिए पंजीकृत कर सकते हैं। और सौर ऊर्जा संयंत्र के विकासकर्ता (Developer) भी पंजीकृत किसानों तक पहुंचने के लिए पंजीकरण कर सकते हैं जिससे किसानों को लाभ प्राप्त होगा। तथा उनकी आय में वृद्धि होगी। इस योजना के तहत स्थापित होने वाले सौर ऊर्जा संयंत्र से उत्पादित होने वाली बिजली आसपास के क्षेत्र के लोगों को ही मिलेगी और उनको दिन के समय कृषि कार्य के लिए पर्याप्त बिजली उपलब्ध हो सकेगी

पालनहार योजना राजस्थान

सोलर एनर्जी प्लांट के लिए फीस कितनी है ?

सौर कृषि आजीविका योजना के तहत किसानों को सोलर प्लांट लगवाने के लिए 1180 रुपए का पंजीकरण शुल्क के तौर पर भुगतान करना होगा। इसके अलावा सौर ऊर्जा संयंत्र के विकासकर्ता (Developer) को भी पंजीकरण शुल्क के तौर पर 5900 रुपए जमा कराने होंगे। जल्द किसानों और डेवलपर्स की समस्याओं के समाधान के लिए डेडीकेट हेल्प डेस्क डिस्कॉम स्तर पर बनाई जाएगी। जब दोनों पक्ष की ओर से फीस और दस्तावेज जमा कराए जाएंगे। तभी आवेदन की जांच करके डिस्कॉम की ओर से भूमि का सत्यापन किया जाएगा।

सोलर एनर्जी प्लांट पर कितनी सब्सिडी मिलेगी ?

सौर कृषि आजीविका योजना के अंतर्गत सौर ऊर्जा प्लांट लगाने पर कुल लागत पर 30 प्रतिशत की सब्सिडी सरकार की तरफ से दी जाएगी। जिसे पीएम कुसुम योजना के जरिए डेवलपर तो दिया जाएगा।

किसानों ने कराया SKAY Portal पर पंजीकरण

इस योजना के शुभारंभ के बाद ही किसानों एवं विकासकर्ताओं (Developer) का अच्छा रेस्पॉन्स मिल रहा है। इस पोर्टल पर अब तक 34621 से अधिक लोगों ने पंजीकरण किया है। सौर कृषि ऊर्जा योजना के तहत 7217 किसानों ने अपनी बंजर भूमि पर सौर ऊर्जा संयंत्र की स्थापना के लिए पोर्टल पर पंजीकरण कराया है। इसी के साथ सौर ऊर्जा संयंत्र के विकासकर्ताओं ने भी लगभग 753 ने पोर्टल पर पंजीकरण करवाया है।

समीक्षा बैठक में बताया गया कि अलवर व जयपुर जिले के किसानों ने सौर कृषि आजीविका योजना में अधिक उत्साह दिखाया है। इन जीएसएस के लिए डिस्कॉम अधिकारियों द्वारा भूमि के सत्यापन के पश्चात डिस्कॉम द्वारा  जल्द ही टेंडर जारी करने की प्रक्रिया शुरु की जाएगी।

सौर कृषि आजीविका योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • राजस्थान में सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने के लिए Saur Krishi Ajivika Yojana Portal को राज्य में 17 अक्टूबर 2022 को ऊर्जा मंत्री भवन भवन सिंह भाटी द्वारा लांच किया गया है।
  • सौर कृषि आजीविका योजना के माध्यम से किसानों को दिन के समय भी बिजली प्राप्त होगी।
  • किसानों को बंजर/अनुपयोगी भूमि के लिए लीज के रूप में अतिरिक्‍त आय अर्जित करने का अवसर प्राप्त होगा।
  • विकासकर्ता राज्‍य भर में किसान भूमि मलिकों के संपर्क विवरण के साथ उपलब्ध भूमि तक पहुंचेंगे।
  • राज्य में सस्ती और ऊर्जा की उपलब्धता से बिजली खरीद लागत और वितरण एवं व्यवसायिक हानियों में कमी आएगी।
  • इस योजना के माध्यम से पीएम कुसुम योजना के घटक ए से वितरित, सौर पावर प्लांट बिजली संयंत्र की क्षमता या इसकी स्थापना स्थान पर कोई बाध्यता नहीं होगी।
  • बिजली उत्पादन और उसकी खपत दोनों उपभोक्ता के नजदीक होने के कारण विद्युत वितरण ढांचे एवं वितरण हानि में भी कमी आएगी।
  • किसानों की बंजर अनुपयोगी भूमि पर सरकार की ओर से किराया दिया जाएगा।
  • जिसके माध्यम से किसान अपनी बंजर और अनुपयोगी जमीन पर सोलर प्लांट लगवा कर अच्छा पैसा कमा सकते हैं।
  • किसानों को सिंचाई के लिए बिजली के साथ ही पैसा कमाने का अवसर भी मिलेगा

Saur Krishi Aajeevika Yojana के लिए पात्रता

  • सौर कृषि आजीविका योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक को राजस्थान का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए राज्य का कोई भी किसान या भूमि मालिक पात्र होंगे।
  • सौर ऊर्जा संयंत्र के विकासकर्ता सौर कृषि आजीविका योजना के लिए पात्र होंगे।
  • राज्य के जिन नागरिकों के पास बंजर जमीन होगी वही इस योजना के लिए पात्र होंगे।

सौर कृषि आजीविका योजना में आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र
  • खेत की खतौनी के कागजात
  • बैंक पासबुक
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

Saur Krishi Aajeevika Yojana में रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

  • नए पेज पर मोबाइल नंबर, फुल नेम, और यूजर टाइप करें।
  • “Submit” पर क्लिक करें।
  • नया page खुलेगा और आपको एक एप्लीकेशन फॉर्म दिखाई देगा।
  • एप्लीकेशन फॉर्म में अपनी जमीन के सभी विवरण प्रदान करें।
  • विवरण प्रदान करने के बाद, पंजीकरण शुल्क को ऑनलाइन जमा करें।
  • दी गई सभी जानकारी को चेक करें और “सबमिट” पर क्लिक करें।

SKAY Portal पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • होम पेज पर “Farmer Login” में “Login Here” के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • लॉगइन पेज खुलेगा, जहां आपको यूजर आईडी और पासवर्ड डालने का ऑप्शन है वहाँ
  • यूजर आईडी और पासवर्ड दर्ज करें।
  • “Log in” के ऑप्शन पर क्लिक करें।

राजस्थान सौर कृषि आजीविका योजना 2023 से संबंधित प्रश्न-उत्तर (FAQ)

Saur Krishi Aajeevika Yojana का उद्देश्य क्या है?

बंजर भूमि को किराये पर देकर राज्य के प्रचूर भूमि संसाधन का उपयोग कराना आजीविका योजना का उद्देश्य है।

सौर कृषि आजीविका योजना कब शुरू की गई?

सौर कृषि आजीविका योजना 17 अक्टूबर सन 2022 को शुरू की गई।

सौर कृषि आजीविका योजना का Helpline Number क्या है?

Saur Krishi Aajeevika Yojana Helpline Number 01452641208, 0141-2209533, 09413359042.

सौर कृषि आजीविका योजना के लिए अधिकारिक वेबसाइट क्या है?

सौर कृषि आजीविका योजना के लिए पोर्टल https://www.skayrajasthan.org.in है।

Leave a Comment