Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur के दर्शन के लिए कैसे पहुंचें? जाने सफर का किराया और यात्रा की पूरी जानकारी

Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur :- इन दिनों मध्य प्रदेश के बागेश्वर धाम और उसके महत्व की, खासकर पंडित धीरेंद्र शास्त्री की चर्चा खूब हो रही है. बागेश्वर धाम को लेकर सरकार कई तरह के दावे कर रही है. ऐसा कहा जाता है कि पंडित धीरेंद्र शास्त्री मन लगाकर पढ़ सकते हैं, लोगों को भूतों से छुटकारा दिला सकते हैं और भक्तों की किसी भी समस्या का समाधान कर सकते हैं। हालांकि महंत धीरेंद्र शास्त्री पर अंधविश्वास फैलाने के भी आरोप हैं. इतना सब होने के बावजूद भी बहुत से श्रद्धालु आज भी हिंदू धर्म से जुड़े पवित्र स्थान बागेश्वर धाम की यात्रा करना चाहते हैं और वहां जाने के लिए उत्सुक रहते हैं। हालाँकि, बागेश्वर धाम और पंडित धीरेंद्र शास्त्री हाल के महीनों में काफी प्रसिद्ध हुए हैं, लेकिन बहुत से लोगों को बागेश्वर धाम के बारे में अधिक जानकारी नहीं है। इसलिए, यदि आप भी बागेश्वर धाम की यात्रा करना चाहते हैं, तो यहां कैसे पहुंचे, बागेश्वर धाम की एक झलक कैसे प्राप्त करें, ट्रेन या बस मार्ग और बागेश्वर धाम में स्थित इस धार्मिक स्थान पर जाने की कुल लागत की पूरी जानकारी यहां दी गई है।

अगर आप अपने जीवन में समस्याओं का निराकरण पाना चाहते हैं तो आप घर बैठे ही Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur के लिए अर्जी लगा सकते हैं। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बागेश्वर धाम सरकार से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराएंगे। आदि के लिए आपको यह आर्टिकल विस्तारपूर्वक अंत तक पढ़ना होगा।

बागेश्वर धाम सरकार छतरपुर की पूरी जानकारी

Table of Contents

आर्टिकल का नाम  Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur
Post CategoryArticle
धाम का नाम  बागेश्वर धाम सरकार छतरपुर
राज्य, जिला का नाम  मध्य प्रदेश, छतरपुर जिला
बागेश्वर धाम का पता  गढ़ा गंज छतरपुर मध्य प्रदेश इंडिया
मंदिर के धाम के पुजारी का नाम  श्री धीरेंद्र कृष्ण जी
बागेश्वर धाम सरकार मंदिर धाम कार्यालय फोन नंबर  8120592371
Bageshwar Dham मैप लोकेशन  Click Here
Bageshwar Dham अधिकारिक यूट्यूब चैनल  https://www.youtube.com/c/BageshwarDhamSarkar/videos

Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur 2023

मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में बागेश्वर धाम सरकार का मंदिर स्थित है। बताया जाता है कि इस धाम में राम भक्त हनुमान जी अपने श्री बागेश्वर बालाजी महाराज के रूप में वास करते है। और अपने भक्तों की समस्याओं का निराकरण कर उनका कल्याण करते हैं। इस धाम के दर्शन करने के लिए देश के कोने कोने से भक्त आते हैं। Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur में आने के लिए सभी श्रद्धालुओं को अपनी अर्जी लगानी होती है। अर्जी स्वीकार होने के बाद ही उन्हें निशुल्क टोकन मिलता है। यह टोकन हर महीने किसी एक निश्चित तिथि पर दिए जाते हैं।

टोकन के अनुसार श्रद्धालुओं को बागेश्वर धाम मंदिर में निर्धारित समय पर पहुंचना होता है, जहां महाराज श्री धर्मेंद्र कृष्ण जी बिना उन्हें समझाए ही उनकी समस्या का समाधान कर देते हैं। आप मंदिर जाने की आवश्यकता के बिना भी अपने घर से आराम से टोकन के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा, आप YouTube, Facebook, Instagram और अन्य समान प्लेटफार्मों पर लाइव स्ट्रीमिंग के माध्यम से मंदिर में आयोजित रामायण को सुन सकते हैं।

बागेश्वर धाम के दर्शन के लिए टोकन कैसे प्राप्त करें?

धाम में बागेश्वर मंदिर में दर्शन के लिए श्रद्धालुओं को टोकन लेना होता है। भक्त और तीर्थयात्री मंदिर में दर्शन के लिए टोकन के लिए आवेदन करते हैं। मंदिर की सेवा समिति टोकन जारी करती है जिसके माध्यम से नाम, मोबाइल नंबर और पता जैसी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की जाती है। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि मंदिर सेवा समिति प्रत्येक माह एक विशिष्ट तिथि पर टोकन वितरित करती है।

टोकन वितरण की अवधि जानने के लिए बागेश्वर धाम छतरपुर के हेल्पलाइन नंबर 8120592371 पर संपर्क कर सकते हैं. इसके अतिरिक्त, आप मंदिर के कर्मचारियों से टोकन के समय और दिनांक के बारे में भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। जानकारी प्राप्त करने के बाद, आप टोकन लेने के लिए निर्धारित दिन पर मंदिर जा सकते हैं यह आपके आवेदन को बागेश्वर धाम में संसाधित करने में मदद करेगा।

टोकन प्राप्त करने के बाद ही आपको महाराज से मिलने और अपनी समस्याओं का समाधान खोजने का अवसर मिल सकता है।

Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur कैसे जाएं?

अगर आप बागेश्वर धाम सरकार मंदिर के दर्शन करना चाहते हैं तो आप सड़क, ट्रेन या हवाई मार्ग से वहां पहुंच सकते हैं। भोपाल से बागेश्वर धाम की दूरी करीब 365 किलोमीटर है। यदि आप ट्रेन से बागेश्वर धाम जाना चाहते हैं, तो निकटतम रेलवे स्टेशन छतरपुर रेलवे स्टेशन या खजुराहो रेलवे स्टेशन हैं। इन रेलवे स्टेशनों से टैक्सी या बसें आसानी से उपलब्ध हैं। छतरपुर रेलवे स्टेशन से बागेश्वर धाम की दूरी 25 किलोमीटर है। दिल्ली से बागेश्वर धाम की दूरी करीब 444 किलोमीटर है। आप अपनी कार या बस से दर्शन के लिए बागेश्वर धाम सरकार पहुँच सकते हैं, जिसमें 12 घंटे की यात्रा शामिल है।

बागेश्वर धाम पहुंचने से दो किलोमीटर पहले भीड़ के कारण कारों को रोक दिया जाता है। सुबह 8 बजे से पहले आप अपनी कार को मंदिर के पीछे ले जा सकते हैं। अन्यथा, आपको अपना वाहन पार्किंग में खड़ा करना होगा और शेष दो किलोमीटर के लिए पैदल या टैक्सी लेनी होगी। भीड़ के कारण टेंपो मिलना मुश्किल हो सकता है, इसलिए पैदल चलना ही बेहतर है।

हवाई मार्ग से बागेश्वर धाम मंदिर कैसे जाएं?

यदि आप हवाई यात्रा करना चाहते हैं, तो आप खजुराहो हवाई अड्डे के लिए उड़ान टिकट बुक कर सकते हैं, जो बागेश्वर धाम सरकार छतरपुर के पास है, या सीधे दिल्ली से खजुराहो हवाई अड्डे के लिए। यदि आपको खजुराहो के लिए सीधी उड़ान नहीं मिल रही है, तो आप ग्वालियर हवाई अड्डे के लिए उड़ान से यात्रा कर सकते हैं और फिर खजुराहो हवाई अड्डे की यात्रा कर सकते हैं। उसके बाद आप खजुराहो हवाई अड्डे से बस या टैक्सी से छतरपुर पहुंच सकते हैं, और फिर बाकी की यात्रा सड़क मार्ग से पूरी की जा सकती है।

सड़क मार्ग या बस से बागेश्वर धाम मंदिर कैसे जाएं?

अगर आप अपने वाहन से बागेश्वर धाम सरकार छतरपुर पहुंचना चाहते हैं तो गूगल मैप्स पर लोकेशन की मदद ले सकते हैं। उसके बाद आपको खजुराहो मार्ग पहुंचना होगा, जो वहां से 35 किलोमीटर दूर है। वहां आपको एक मीनार दिखाई देगी, जहां से बागेश्वर धाम सरकार छतरपुर पहुंचने के लिए आपको 3 किलोमीटर जाना होगा। इसके अलावा, यदि आप बस से बागेश्वर धाम जाना चाहते हैं, तो बस स्टैंड पर मध्य प्रदेश छतरपुर के लिए चलने वाली बसों के बारे में पूछताछ कर सकते हैं। आप दिल्ली से छतरपुर तक निजी बस से यात्रा करने के लिए ऑनलाइन टिकट भी बुक कर सकते हैं। इसके अलावा आप सड़क मार्ग से भी छतरपुर की यात्रा कर सकते हैं।

ट्रेन से Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur मंदिर कैसे जाएं?

यदि आप ट्रेन से बागेश्वर धाम सरकार छतरपुर की यात्रा करने की योजना बना रहे हैं, तो आपको अपने क्षेत्र से छतरपुरMP जाने वाली ट्रेनों के बारे में जानकारी जुटानी होगी या यदि आप दिल्ली से आ रहे हैं, तो आप छतरपुर के लिए सीधी ट्रेन ढूंढ सकते हैं। छतरपुर पहुंचने के बाद बस या टैक्सी से खजुराहो पन्ना तक 33 किलोमीटर का सफर तय करना होगा। गणेश नाम से, जो खजुराहो पन्ना से 3 किलोमीटर दूर है, आपको बागेश्वर धाम सरकार मंदिर तक पहुंचने के लिए अंदर जाना होगा।

बागेश्वर धाम जाने का खर्च

दिल्ली से छतरपुर के लिए ट्रेन मिल जाएगी, जिसका स्लीपर क्लास का किराया लगभग 320 रुपये और थर्ड एसी का किराया 800 रुपये तक होता है। वहीं इंदौर या भोपाल से भी छतरपुर के लिए कई ट्रेन मिल जाएंगी। ट्रेन से छतरपुर का किराया 1000 रुपये से कम होगा। सार्वजनिक बस या टैक्सी के माध्यम से आप बागेश्वर धाम तक पहुंच सकते हैं। इसका खर्च भी 500 रुपये प्रति व्यक्ति से कम ही होगा। महज 5000 रुपये के बजट में प्रति व्यक्ति बागेश्वर धाम सरकार के दर्शन किए जा सकते हैं। पास में ही खजुराहो मंदिर स्थित है, सफर के दौरान वहां भी घूमने जा सकते हैं।

घर बैठे बागेश्वर धाम सरकार मंदिर की अर्जी कैसे लगाएं?

अगर आप बागेश्वर धाम सरकार छतरपुर आने के लिए अर्जी घर बैठे लगाना चाहते हैं, तो आप महाराज श्री धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री जी द्वारा बताई गई विधि को अपनाकर घर बैठे ही अपनी अर्जी लगा सकते हैं नीचे दी गई चरण-दर-चरण प्रक्रिया का पालन करके आप घर बैठे अर्जी लगा सकते हैं।

  • बागेश्वर धाम में अर्जी लगाने के लिए सबसे पहले आपको एक लाल कपड़ा लेना होगा।
  • अब आपको इस लाल कपड़े में एक सूखे नारियल को चारों तरफ से लपेटना होगा।
  • नारियल पर कपड़ा लपेटे समय आपको अपनी अर्जी के बारे में सोचते हुए कपड़ा लपेटना होगा।
  • इसके बाद आपको एक माला लेकर भगवान बागेश्वर धाम सरकार का जाप करना है और आपको कपड़े में लपेटे हुए नारियल को अपने घर के पूजा स्थल पर रख देना है।
  • इस प्रकार आप घर बैठे बागेश्वर सरकार धाम मंदिर के लिए अर्जी लगा सकते हैं।

Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur अर्जी डालते हुए इन बातों का रखें ध्यान

बागेश्वर धाम सरकार छतरपुर के लिए अर्जी डाल चुके हैं तो आपको कुछ समय के लिए निम्नलिखित बातों का ख्याल रखना होगा और चीजों से परहेज करना होगा। जैसे कि-

  • अर्जी डालने के बाद आपको कुछ चीजों के सेवन से परहेज करना होगा।  जैसे प्याज, लहसुन, मांस, मदिरा आदि।
  • इन चार दिनों में ब्रह्मचर्य का पालन करें और नियमित रूप से मंत्रों का जाप करते रहें।
  • एक बार अर्जी स्वीकार होने पर आपको लाल कपड़े से बांधे गए नारियल को बागेश्वर धाम सरकार छतरपुर ले जाना होगा।

कैसे पता करें आपकी अर्जी स्वीकार हुई की नहीं?

अगर आप यह पता करना चाहते हैं कि आपकी अर्जी स्वीकार हुई है या नहीं तो इसके लिए आपको निम्नलिखित घटनाओं पर ध्यान देना होगा।

  • अर्जी स्वीकार होने पर आपको या आपके परिवार के किसी सदस्य को लगातार सपने में दो दिनों तक भगवान बागेश्वर के बंदर स्वरूप के दर्शन होगे। यानी अगर आपको सपने में दो दिनों तक बंदर दिखाई देते हैं तो उसका अर्थ होगा कि आपकी अर्जी स्वीकार कर ली गई है।
  • यदि आपकी अर्जी स्वीकार नहीं होती है तो आपको निराश होने की जरूरत नहीं है आप इस विधि को फिर से अगले मंगलवार को दोहरा सकते हैं। आप इस विधि को तब तक कर सकते जब तक आपकी अर्जी स्वीकार नहीं हो जाती। 

बागेश्वर धाम मंदिर की कथा कैसे सुन सकते हैं?

अगर आप बागेश्वर धाम मंदिर जाने में सक्षम नहीं है तो आप बागेश्वर धाम सरकार के मंदिर की कथा घर पर ही आसानी से ऑनलाइन सुन सकते हैं। आप यूट्यूब चैनल के माध्यम से या टीवी के माध्यम से कथा सुन सकते हैं।

YouTube चैनल के माध्यम से – आप बागेश्वर धाम सरकार मंदिर के आधिकारिक YouTube चैनल के माध्यम से बागेश्वर धाम सरकार मंदिर की ऑनलाइन कथा, आरती और दर्शन का अनुभव कर सकते हैं। इसके अलावा, आप सही समय पर नई कहानियाँ, आरती और दर्शन प्राप्त करने के लिए YouTube चैनल की सदस्यता ले सकते हैं। गौरतलब है कि बागेश्वर धाम सरकार के यूट्यूब चैनल को अब तक 47 Lakh लोग सब्सक्राइब कर चुके हैं।

बागेश्वर धाम सरकार मंदिर YouTube channel link

टीवी के माध्यम से – अगर आप टीवी के माध्यम से बागेश्वर धाम सरकार की कहानी और आरती देखना चाहते हैं, तो आप इसे आस्था टीवी चैनल या संस्कार चैनल के माध्यम से देख सकते हैं। मंदिर के महाराज श्री धीरेंद्र कृष्ण जी टीवी चैनल पर श्रीमद्भागवत कथा का पाठ करते हैं। लाइव कहानी पाठ टीवी चैनल पर प्रसारित किया जाता है। अब आप टीवी पर संस्कार और आस्था चैनलों के माध्यम से घर बैठे ही आरती, कथा और दर्शन का लाभ उठा सकते हैं।

Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur ठहरने की व्यवस्था

बागेश्वर धाम, छतरपुर, भारत में श्रद्धालुओं के लिए अच्छी व्यवस्था है। बागेश्वर धाम में भक्तों की सुविधा के लिए कई रैन बसेरे स्थल बनाए गए हैं। ये रैन बसेरे भक्तों को ठहरने के लिए एक आसान स्थान प्रदान करते हैं। इसके अतिरिक्त बागेश्वर धाम छतरपुर सरकार मे सभी भक्तों के लिए प्रसाद बाटा जाता है, जो सुबह 10 बजे से रात 8 बजे तक भोजन के रूप में दिया जाता है। प्रसाद ग्रहण करने के लिए टोकन लेने का कोई शुल्क नहीं है। यदि आप किसी होटल में ठहरना चाहते हैं तो खजुराहो में होटल उपलब्ध हैं, जो बागेश्वर धाम से 30 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इन होटलों में आप अपनी सुविधा के अनुसार ठहर सकते हैं।

क्या है बागेश्वर धाम की मान्यता क्या है

बागेश्वर धाम का दरबार मंगलवार और शनिवार को लगता है। मान्यता है कि अगर आपको भगवान बालाजी से कुछ मांगना है या किसी समस्या का निवारण करना है तो अर्जी लगानी होती है। इसके लिए आप घर बैठे अर्जी लगा सकते हैं। बागेश्वर धाम पहुंच कर भी अर्जी लगा सकते हैं। एक लाल कपड़े में पर्ची बांधकर नारियल के साथ अर्जी लगाई जाती है। अर्जी की पर्ची निकलने पर बागेश्वर धाम सरकार पंडित धीरेंद्र शास्त्री आपकी समस्या पूछते हैं और इसका हल निकालते हैं। इसके अलावा दर्शन के लिए आपको कुछ खर्च नहीं करना होता है।

Join Us On Telegram


Leave a Comment