प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान PMGDISHA regestration, form pdf

PMGDISHA Apply online| प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान आवेदन फॉर्म | Pradhanmantri Gramin Digital Saksharta Abhiyan In Hindi | ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान प्रधानमंत्री ऑनलाइन आवेदन

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान प्रधान मंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान हमारे देश के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा लोगों को डिजिटल रूप से साक्षर बनाने के लिए शुरू किया गया था। इस अभियान के तहत, केंद्र सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में नागरिकों को कंप्यूटर व डिजिटल उपकरणों जैसे टेबलेट, स्मार्टफोन आदि की ट्रेनिंग ईमेल भेजना व रिसीव करना, इंटरनेट चलाना, इंटरनेट से सरकारी सुविधाओं का लाभ उठाना, इंटरनेट पर जानकारी ढूँढना व ऑनलाइन पेमेंट करना आदि (Training will be provided to send and receive emails, run internet, avail government facilities from internet, search information on internet and make online payment etc.) की ट्रेनिंग दी जाएगी

पालनहार योजना 

PMGDISHA 2023

Table of Contents

यह अभियान देश के ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिकों के लिए शुरू किया गया है। PMGDISHA 2023 का लाभ ग्रामीण क्षेत्रों में उन परिवारों को मिलेगा जहां किसी भी सदस्य को डिजिटल साक्षरता और कंप्यूटर का ज्ञान नहीं है। एक परिवार में घर के मुखिया, उनकी पत्नी, बच्चे और माता-पिता आते हैं। इस योजना के तहत एक परिवार के एक सदस्य को कंप्यूटर से संबंधित प्रशिक्षण दिया जाएगा। जो लोग प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2023 के तहत प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहते हैं उन्हें पहले इस योजना के तहत आवेदन करना होगा।

ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2023 का उद्देश्य

जैसा कि आप जानते होंगे, भारत में ग्रामीण नागरिक या तो निरक्षर हैं या उनके पास सीमित शिक्षा है। 2014 में किए गए राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण कार्यालय (NSSO) के सर्वेक्षण के अनुसार, भारत में केवल 6% ग्रामीण परिवारों के पास घर में कंप्यूटर है। इसका मतलब यह है कि भारत में 150 मिलियन से अधिक घरों में कंप्यूटर की पहुंच नहीं है। इन तथ्यों के आलोक में, केंद्र सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में परिवारों को डिजिटल जागरूकता और शिक्षा प्रदान करने के लिए प्रधान मंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान शुरू किया है। इस अभियान का उद्देश्य 2023 तक ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के तहत ग्रामीण परिवारों के एक सदस्य को सशक्त और मजबूत करना है।

सुकन्या समृद्धि योजना

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान की विशेषताएं

  • इस योजना के तहत, लगभग 40% ग्रामीण परिवारों में से कम से कम एक सदस्य को 31 मार्च, 2020 तक डिजिटल रूप से साक्षर बनाने की योजना है।
  • इस योजना के तहत देश में लगभग 60 मिलियन नागरिकों को डिजिटल साक्षरता प्रदान की जाएगी।
  • पीएमजीदिशा के तहत, लगभग 5.25 मिलियन लोगों को 2020 तक आईटी प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।
  • सीएससी-एसपीवी द्वारा जिला ई-गवर्नेंस सोसाइटी (डीईजीएस), ग्राम पंचायतों और ब्लॉक विकास अधिकारियों के सहयोग से इस योजना के लाभार्थियों की पहचान की जाती है।

Pradhanmantri Gramin Digital Saksharta Abhiyan 2023 के लाभ

  • प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2023 ग्रामीण क्षेत्रों में प्रत्येक परिवार के कम से कम एक सदस्य को कंप्यूटर प्रशिक्षण प्रदान करेगा।
  • एक परिवार को मुखिया, जीवनसाथी, बच्चों और माता-पिता से मिलकर परिभाषित किया जाता है। इस योजना के तहत बिना किसी डिजिटल साक्षर सदस्य के पात्र परिवारों पर विचार किया जाएगा।
  • योजना के तहत प्रशिक्षित नागरिक कंप्यूटर, टैबलेट और स्मार्टफोन जैसे डिजिटल उपकरणों के संचालन में कुशल होंगे।
  • योजना के तहत प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले लोग अपने दैनिक जीवन में इंटरनेट का उपयोग करके नागरिक सेवाओं, स्वास्थ्य सेवाओं और वित्तीय सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं।
  • ग्रामीण लोगों को ऑनलाइन बुकिंग के नए तरीकों की जानकारी दी जाएगी।
  • यह योजना गैर-स्मार्टफोन उपयोगकर्ताओं, अंत्योदय योजना के प्रतिभागियों, कॉलेज छोड़ने वाले लोगों और राष्ट्रीय साक्षरता मिशन के प्रतिभागियों को प्राथमिकता देगी।
  • कक्षा 9 से 12 तक के छात्र जो डिजिटल रूप से साक्षर नहीं हैं और जिनके स्कूलों में कंप्यूटर प्रशिक्षण की सुविधा नहीं है, वे पात्र होंगे।
  • अनुसूचित जाति (एससी), अनुसूचित जनजाति (एसटी), गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल), महिलाओं, विकलांग व्यक्तियों और अल्पसंख्यकों को भी प्राथमिकता दी जाएगी।
  • इस योजना के लाभार्थियों की पहचान जिले में सीएससी-एसपीवी द्वारा की जाएगी।

पीएम ग्रामीण डिजिटल साक्षारता अभियान 2023 के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • आवेदक भारतीय निवासी होना चाहिए ।
  • आवेदक की आयु 18 से 60 वर्ष एक बीच होनी चाहिए ।
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पहचान  पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान (PMGDISHA) में आवेदन कैसे करे?     

ग्रामीण क्षेत्रो के जो लोग इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे ।

  • आवेदक के लिए पहला कदम आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • एक बार आधिकारिक वेबसाइट पर, होम पेज दिखाई देगा।
  • इस होम पेज पर आपको “डायरेक्ट कैंडिडेट” का विकल्प दिखाई देगा।
  • इस विकल्प पर क्लिक करें।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद अगला पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर लॉगिन फॉर्म दिखाई देगा।
  • इस लॉगिन फॉर्म के नीचे आपको “रजिस्टर” का विकल्प दिखाई देगा।
  • इस विकल्प पर क्लिक करें।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद रजिस्ट्रेशन फॉर्म दिखाई देगा।
  • आपको इस पंजीकरण फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे यूआईडीएआई नंबर, छात्र का नाम, लिंग, जन्म तिथि आदि भरनी होगी और नीचे दिए गए निर्देशों को पढ़कर सही निशान पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको Add पर क्लिक करना होगा।
  • अगला कदम ई-केवाईसी है, जिसे मोबाइल फोन पर फिंगरप्रिंट स्कैनिंग, रेटिना स्कैनिंग या ओटीपी सत्यापन द्वारा किया जा सकता है। जिनके पास फिंगरप्रिंट स्कैनर या रेटिना स्कैनर नहीं है, वे तीसरा विकल्प चुन सकते हैं, जो मोबाइल फोन ओटीपी सत्यापन है।
  • इसके लिए आपको एक वैलिड मोबाइल नंबर देना होगा, जिस पर ओटीपी भेजा जाएगा। सही ओटीपी डालने के बाद आपको ‘वैलिडेट ओटीपी’ पर क्लिक करना होगा।
  • फिर, आप छात्र टैब पर जा सकते हैं और अपनी सारी जानकारी देख सकते हैं। एक बार पंजीकरण पूरा हो जाने के बाद, छात्र अपना नया खाता खोलने के लिए अपना यूजर आईडी और पासवर्ड जनरेट कर सकते हैं।

पीएम ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान का सर्टिफिकेट

प्रशिक्षण के बाद आपको पीएमजीदिशा प्रमाणपत्र प्रदान किया जाता है। ट्रेनिंग के बाद ऑनलाइन टेस्ट होता है। इस ऑनलाइन टेस्ट में 25 प्रश्न पूछे जाते हैं और यदि उम्मीदवार कम से कम 7 प्रश्नों का सही उत्तर देते हैं, तो वे परीक्षा उत्तीर्ण करते हैं और पीएमजीदिशा प्रमाणपत्र प्राप्त करते हैं।

PMGDISHA ट्रेनिंग सेंटर कैसे खोलें

  • यदि देश में कोई अपना प्रशिक्षण केंद्र खोलने का इच्छुक है, तो उसे पहले सीएससी-एसपीवी प्रशिक्षण भागीदार बनना होगा।
  • कोई भी एनजीओ, संस्था या कंपनी प्रशिक्षण भागीदार बन सकती है, लेकिन उन्हें कुछ मानदंडों को पूरा करना होगा।
  • तीन साल से अधिक समय तक शिक्षा/आईटी साक्षरता के क्षेत्र में व्यवसाय का संचालन करना और परमानेंट अकाउंट नंबर (PAN) और कम से कम पिछले तीन वर्षों के खातों का परीक्षित विवरण (audit) होना।

टीसी लोकेटर ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • अब आपको ट्रेनिंग के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको टीसी लोकेटर ऐप के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे यह ऐप डाउनलोड होना शुरू हो जाएगा।
  • जब यह ऐप डाउनलोड हो जाएगा आप इसे इंस्टॉल कर सकते हैं।

दिशा रजिस्ट्रेशन ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • अब आपको ट्रेनिंग के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको दिशा रजिस्ट्रेशन ऐप के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे यह ऐप डाउनलोड होना शुरू हो जाएगा।
  • जब यह ऐप डाउनलोड हो जाएगा आप इसे इंस्टॉल कर सकते हैं।

पीएमजीदिशा लर्निंग ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • अब आपको ट्रेनिंग के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको पीएमजीदिशा लर्निंग ऐप के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे यह ऐप डाउनलोड होना शुरू हो जाएगा।
  • जब यह ऐप डाउनलोड हो जाएगा आप इसे इंस्टॉल कर सकते हैं।

PMGDISHA हेल्पलाइन नंबर

अगर किसी के पास पीएमजीदिशा के बारे में कोई प्रश्न या चिंता है, तो वे 1800 3000 3468 नंबर पर कॉल कर सकते हैं या helpdesk@pmgdisha.in पर ईमेल कर सकते हैं। वे अपने प्रश्नों के उत्तर और अपनी समस्याओं के समाधान प्राप्त कर सकते हैं।

FAQ

पीएमजीदिशा क्या है?

पीएमजीदिशा भारत सरकार द्वारा बुनियादी डिजिटल साक्षरता कौशल प्रदान करके ग्रामीण नागरिकों को डिजिटल रूप से सशक्त बनाने के लिए शुरू की गई एक योजना है।

पीएमजीदिशा के लिए कौन पात्र है?

यह योजना भारत के ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिकों के लिए लक्षित है जो 14 वर्ष या उससे अधिक आयु के हैं और डिजिटल रूप से साक्षर नहीं हैं।

मैं पीएमजीदिशा में कैसे नामांकन कर सकता हूं?

पीएमजीदिशा योजना में नामांकन के लिए आप अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) पर जा सकते हैं।

पीएमजीदिशा के क्या लाभ हैं?

पीएमजीदिशा के लाभों में डिजिटल साक्षरता में वृद्धि, सरकारी सेवाओं तक बेहतर पहुंच, रोजगार के बेहतर अवसर और डिजिटल लेनदेन में वृद्धि शामिल है

क्या पीएमजीदिशा में नामांकन के लिए कोई शुल्क है?

नहीं, PMGDISHA योजना में नामांकन के लिए कोई शुल्क नहीं है।

पीएमजीदिशा पाठ्यक्रम में कौन से विषय शामिल हैं?

पीएमजीदिशा पाठ्यक्रम में डिजिटल उपकरण, इंटरनेट और ईमेल, डिजिटल वित्तीय सेवाएं और डिजिटल सरकारी सेवाएं जैसे विषय शामिल हैं।

पीएमजीदिशा के लिए प्रमाणन प्रक्रिया क्या है?

एक बार जब आप पीएमजीदिशा पाठ्यक्रम पूरा कर लेते हैं, तो आपका मूल्यांकन एक ऑनलाइन परीक्षा के माध्यम से किया जाएगा। यदि आप परीक्षा उत्तीर्ण करते हैं, तो आपको एक डिजिटल प्रमाणपत्र प्राप्त होगा।

पीएमजीदिशा का उद्देश्य क्या है?

पीएमजीदिशा का उद्देश्य डिजिटल साक्षरता प्रशिक्षण तक पहुंच प्रदान करके प्रत्येक ग्रामीण परिवार में एक व्यक्ति को डिजिटल रूप से साक्षर बनाना है।


Leave a Comment