Atal Pension Yojana APY Registration, Chart & Benefits | अटल पेंशन योजना 2023

Atal Pension Yojana क्या है अटल पेंशन योजना रजिस्ट्रेशन फॉर्म, APY चार्ट, जरूरी दस्तावेज व एप्लीकेशन स्टेटस देखे और अटल पेंशन योजना क्या है और कैसे योजना का लाभ प्राप्त करे, Atal Pension Yojana Apply Online, Application Form

1 जून 2015 को हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा अटल पेंशन योजना को आरंभ किया गया था। Atal Pension Yojana के माध्यम से 60 वर्ष की आयु पूरी होने के पश्चात पेंशन प्रदान की जाती है। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी को 18 वर्ष से 40 वर्ष की आयु के बीच निवेश करना होता है। लाभार्थियों को इस योजना के माध्यम से ₹1000 से लेकर ₹5000 की मासिक पेंशन प्रदान की जाती है। पेंशन की राशि लाभार्थियों के द्वारा किए गए निवेश एवं उनकी आयु को ध्यान में रखते हुए निर्धारित की जाती है। इसके अलावा असामयिक मृत्यु की दशा में लाभार्थी के परिवार को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाता है।

महिला सम्मान बचत पत्र योजना

Atal Pension Yojana 2023

Table of Contents

इस योजना के तहत आवेदन करने वाले आवेदक को हर महीने प्रीमियम जमा करना होगा | उसके बाद आवेदक की  60 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद सरकार द्वारा मासिक पेंशन के रूप में बुढ़ापे में आर्थिक सहायता (Financial assistance will be provided in the form of monthly pension in old age.) प्रदान की जाएगी | Atal Pension Yojana में आवेदन करने के लिए लाभार्थियों की उम्र 18 से 40 वर्ष होनी चाहिए तभी वह इस योजना का लाभ उठा सकते है | अगर कोई लाभार्थी 18 वर्ष की आयु में इस योजना से जुड़ना चाहता है तो उन्हे 210 रूपये का प्रीमियम हर महीने देना होगा तथा जिनकी आयु 40 वर्ष है तो उन्हें 297 से लेकर 1 ,454 रूपये तक का प्रीमियम देना होगा

 यूपी छात्रवृत्ति आवेदन स्थिति देखें

NPS, APY में खाताधारक UPI के माध्यम से कर सकेंगे ‌अपना अंशदान

हाल ही में Atal Pension YojanaNational Pension Scheme  2022-23 के खाताधारकों के लिए पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी पीएफआरडीए ने एक नई सुविधा शुरू की है। इस सुविधा के अनुसार अब एनपीएस के खाताधारक अपना अंशदान यूपीआई यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस के माध्यम से कर सकते हैं। पहले एनपीएस के खाताधारक केवल नेट बैंकिंग के माध्यम से ही अपना अंशदान जमा कर सकते थे। शुरू हुई इस नई सुविधा के माध्यम से अब नेशनल पेंशन स्कीम के तहत अंशदान करना ओर अधिक सरल हो जाएगा। क्योंकि यूपीआई पेमेंट सिस्टम एक “रियल टाइम पेमेंट प्रोसेस” है। इस प्रोसेस के माध्यम से खाताधारक एक खाते से दूसरे खाते में चंद मिनटों में पैसे ट्रांसफर कर सकता है।

हिमाचल प्रदेश में अटल पेंशन योजना को 31 मार्च 2023 तक बढ़ाया गया

26 अगस्त 2022 गुरुवार के दिन आंध्र प्रदेश के तिरुपति में हिमाचल प्रदेश के श्रम एवं रोजगार मंत्री बिक्रम सिंह ने राज्य व केंद्र शासित प्रदेशों के श्रम मंत्रियों और श्रम सचिवों के दो दिवसीय राष्ट्रीय श्रम सम्मेलन में हिस्सा लिया था। इस सम्मेलन को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने वर्चुअल माध्यम से संबोधित किया था।  इस सम्मेलन के दौरान मंत्री बिक्रम सिंह जी ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश के वर्तमान लाभार्थियों और नए लोगों को अटल पेंशन योजना का लाभ देने के लिए इसे 31 मार्च 2023 तक बढ़ाया गया है। इस योजना पर 2022-23 मे लगभग 20 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इस योजना के तहत प्रदेश में 1 लाख लोगों को पंजीकृत किया गया है। अब हिमाचल सरकार ने अटल पेंशन योजना 2022-23 के तहत राज्य सरकार की मौजूदा सीमा को ₹2000 प्रति वर्ष से बढ़ाकर ₹3000 प्रति वर्ष कर दिया है।

National Pension Scheme, Atal Pension Yojana के तहत UPI से पेमेंट कैसे करें?

इस योजना के तहत जो इच्छुक खाताधारकों अपना अंशदान यूपीआई के माध्यम से करना चाहते हैं वह हमारे द्वारा नीचे दी गई प्रक्रिया को फॉलो करें।

  • सबसे पहले आपको नेशनल पेंशन स्कीम की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपको अपना पैन नंबर दर्ज करना है‌।
  • अब आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और ईमेल पर एक ओटीपी आएगा जिसे आपको दर्ज करना है।
  • इसके बाद आप एनपीएस टियर 1 या 2 में से किसी एक विकल्प का चयन करना है।
  • अब आपको वर्चुअल अकाउंट वीए का चुनाव करना है।
  • इसके बाद आपके बैंक एप्लीकेशन भेजा जाएगा और फिर आपको एक्नॉलेजमेंट नंबर प्राप्त होगा।
  • अब आपको आगे यूपीआई पेमेंट के विकल्प का चयन करना है।
  • इसके बाद अपना वर्चुअल अकाउंट नंबर और यूपीआई नंबर दर्ज करना है।
  • अब आप यूपीआई का पिन डालकर अपना पेमेंट कर दे।
  • इस प्रकार आप नेशनल पेंशन स्कीम के तहत यूपीआई से पेमेंट कर सकते हैं।

Atal Pension Yojana में बड़ा बदलाव, आयकर दाता को नहीं दिया जाएगा लाभ

केंद्र सरकार द्वारा असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले नागरिकों के लिए शुरू की गई अटल पेंशन योजना में बड़ा बदलाव किया गया है। वित्त मंत्रालय ने यह नोटिफिकेशन जारी की है कि अब आयकरदाता इस योजना से नहीं जुड़ सकेंगे। यह नियम 1 अक्टूबर सन् 2023 से लागू हो जाएंगा। अटल पेंशन योजना 2023 के नए प्रावधान के अनुसार जो नागरिक कानूनी तौर पर आयकर दाता है या रहा है वह इस योजना के तहत आवेदन करने का पात्र नहीं है।

 इस नए प्रावधान के अनुसार यदि कोई नागरिक 1 अक्टूबर को या इसके बाद योजना में शामिल हुआ है और वह नए नियम लागू होने की तिथि या इससे पहले आयकर दाता पाया जाता है तो उसके खाते को तत्काल बंद कर दिया जाएगा। बंद किए जाने वाले खाते में जमा पेंशन अमाउंट को वापस किया जाएगा। इसके अलावा सरकार समय-समय पर इसका रिव्यु भी करेगी।

(NAPS) National Apprenticeship Promotion Scheme 2023

Atal Pension Yojana के अंतर्गत कुल खातों की संख्या 4 करोड़ के पार

मार्च 2022 तक अटल पेंशन योजना के अंतर्गत 99 लाख अकाउंट खोले गए हैं। जिसके पश्चात इस योजना के अंतर्गत कुल खातों की संख्या 4.01 करोड हो गई है। इस बात की जानकारी यूनियन मिनिस्ट्री ऑफ फाइनेंस द्वारा 21 अप्रैल 2022 को प्रदान की गई। कुल एनरोलमेंट में से 71% इनरोलमेंट पब्लिक सेक्टर बैंक से, 19% एनरोलमेंट रीजनल रूरल बैंक से, 6% प्राइवेट सेक्टर बैंक से तथा 3% पेमेंट एवं स्मॉल बैंक के माध्यम से किए गए हैं। 31 मार्च 2022 तक किए गए कुल एनरोलमेंट में से 80% खाताधारकों द्वारा ₹1000 रुपए का पेंशन प्लान का विकल्प का चयन किया गया है एवं 13% खाताधारकों द्वारा ₹5000 की पेंशन प्लान का चयन किया गया है। कुल सब्सक्राइबर में से 44% सब्सक्राइबर महिलाएं हैं एवं 56% साइबर पुरुष है। खाताधारकों में से 45% खाताधारकों की उम्र 18 से 25 वर्ष के बीच है।

71 लाख लाभार्थियों को प्राप्त हो रहा है Atal Pension Yojana का लाभ

संसद के माध्यम से 8 फरवरी 2022 को यह सूचना प्रदान की गई है कि Atal Pension Yojana के अंतर्गत 24 जनवरी 2022 तक ग्राहकों की संख्या 71 लाख से अधिक हो गई है। इस योजना को मई 2015 में आरंभ किया गया था जिसका उद्देश्य लाभार्थियों के लिए सर्व भौमिक सामाजिक सुरक्षा प्रणाली बनाना है। इस योजना का संचालन पेंशन फंड नियामक और विकास प्राधिकरण द्वारा किया जाता है। वित्तीय वर्ष 2021-22 के दौरान इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों की संख्या 7106743 हो गई है। वित्त वर्ष 2020 में इस योजना के अंतर्गत ग्राहकों की संख्या 6883373 थी। वित्तीय वर्ष 2019 में इस योजना के अंतर्गत ग्राहकों की संख्या 5712824 थी।

इसके अलावा वित्त वर्ष 2018 में इस योजना के अंतर्गत 4821632 लाभार्थी थे एवं वर्ष 2017 में लाभार्थियों की संख्या 2398934 थी। अटल पेंशन योजना के माध्यम से लाभार्थी ₹1000, ₹2000, ₹3000, ₹4000 और ₹5000 प्रति माह तक की पेंशन प्राप्त कर सकते हैं। यह पेंशन 60 वर्ष की आयु के बाद प्राप्त की जा सकती है। यदि अभिदाता की मृत्यु हो जाती है तो इस स्थिति में मृतक के पति या पत्नी को समान पेंशन की गारंटी भी इस योजना के माध्यम से प्रदान की जाती है।

प्रधानमंत्री गति शक्ति योजना 2023

Atal Pension Yojana 2023 Highlights

योजना का नामअटल पेंशन योजना
लॉन्च की गयीवर्ष 2015
इनके द्वारा शुरू की गयीकेंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थीदेश के असंगठित क्षेत्रो के लोग
उद्देश्यपेंशन प्रदान करना
Atal Pension Yojana 2023

65 लाख से अधिक नागरिकों द्वारा ली गई सदस्यता

अब तक अटल पेंशन योजना के अंतर्गत 65 लाख से अधिक नागरिकों द्वारा सदस्यता ली गई है। जिससे ग्राहकों की संख्या बढ़कर 3.68 करोड़ हो गई है। इस बात की जानकारी वित्त मंत्रालय द्वारा प्रदान की गई है। जिसके कारण वश प्रबंधनाधीन परिसंपत्ति बढ़कर 20000 करोड रुपए हो गई है। कुल ग्राहकों में से 56% पुरुष एवं 44% महिलाएं हैं। इस योजना की सदस्यता भारत के प्रत्येक नागरिक द्वारा 18 से 40 वर्ष की आयु वर्ग में ली जा सकती है। 60 वर्ष की आयु प्राप्त करने पर ₹1000 से ₹5000 तक की न्यूनतम गारंटीकृत पेंशन इस योजना के माध्यम से प्रदान की जाती है। इसके अलावा ग्राहक की मृत्यु हो जाने पर पति या पत्नी को जीवन भर के लिए पेंशन की गारंटी भी प्रदान की जाती है पति एवं पत्नी दोनों की मृत्यु होने के पश्चात पेंशन कोष का भुगतान नामांकित व्यक्ति को किया जाता है। इस योजना को 9 मई 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा असंगठित क्षेत्र के नागरिकों को लाभ पहुंचाने के लिए आरंभ किया गया था। पीएफआरडीए के अध्यक्ष द्वारा यह जानकारी प्रदान की गई है कि इस वित्तीय वर्ष के दौरान एक करोड़ नामांकन हासिल करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

 इंदिरा गांधी आवास योजना सूची

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत निवेश करके पाएं ₹10000 की प्रतिमाह पेंशन

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं Atal Pension Yojana को वृद्ध नागरिकों को पेंशन प्रदान करने के लिए आरंभ किया गया था। इस योजना के माध्यम से ₹1000 से लेकर ₹5000 की धनराशि पेंशन के रूप में प्रदान की जाती है। यह धनराशि लाभार्थियों द्वारा किए गए निवेश पर प्रदान की जाती है। देश के नागरिक इस योजना के माध्यम से 60 वर्ष की आयु के बाद एक निश्चित पेंशन प्राप्त कर सकेंगे। इस योजना के अंतर्गत पेंशन प्राप्त करने की अधिकतम राशि ₹5000 है। पति और पत्नी दोनों के द्वारा अलग-अलग निवेश करके इस योजना के माध्यम से ₹10000 तक की राशि प्राप्त की जा सकती है। इस बात की जानकारी पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी द्वारा प्रदान की गई है।

इस योजना को असंगठित क्षेत्र के नागरिकों के लिए आरंभ किया गया था। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी का बैंक में बचत खाता होना अनिवार्य है। अटल पेंशन योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए पति एवं पत्नी की आयु 18 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत कर लाभ

अटल पेंशन योजना को असंगठित क्षेत्र के कर्मचारियों को पेंशन प्रदान करने के लिए आरंभ किया गया था। इस योजना के माध्यम से ₹1000 से लेकर ₹5000 की पेंशन प्रतिमाह 60 वर्ष की आयु पूर्ण होने पर आवेदक के निवेश के अनुसार प्रदान की जाती है। इस योजना के अंतर्गत अब ग्राहकों को कर लाभ भी प्रदान किए जाएंगे। इसकी जानकारी पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी द्वारा ट्वीट के माध्यम से प्रदान की गई है। इस ट्वीट में यह बताया गया है कि वह सभी आयकर दाता जो 18 से 40 वर्ष की आयु के भीतर आते हैं वह इस योजना का लाभ उठा सकते हैं और इसी के साथ आयकर अधिनियम के सेक्शन 80CCD (1b) के अंतर्गत इस योजना में किए गए योगदान पर भी लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

Atal Pension Yojana का लाभ प्राप्त करने के लिए ग्राहक का सेविंग बैंक अकाउंट या पोस्ट ऑफिस सेविंगअकाउंट होना अनिवार्य है। अटल पेंशन योजना को आधार एक्ट के सेक्शन 7 में भी शामिल कर लिया गया है। वह सभी नागरिक जो इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं उनको अपनी आधार संख्या का प्रमाण प्रस्तुत करना होगा या फिर आधार प्रमाणीकरण के अंतर्गत नामांकन से गुजरना होगा।

लॉन्च हुआ गोबरधन के लिये एकीकृत पंजीकरण पोर्टल

Atal Pension Yojana में अंशधारकों के आंकड़े हुए तीन करोड़ से अधिक

जैसे की सभी लोग जानते है कि केंद्र सरकार कि यह योजना देश के 60 वर्ष से अधिक आयु के वृद्धजनों को आर्थिक सहायता के रूप में प्रतिमाह पेंशन प्रदान कर रही है। पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने 22 अप्रैल को  यह बताया है कि  अटल पेंशन योजना के अंतर्गत वित् वर्ष 2020-21 में अब तक 3 करोड़ से अधिक सब्सक्राइबर को जोड़ा गया है और उन्होंने यह भी कहा है कि वित् वर्ष 2020 -21 में  इस योजना के तहत लगभग 79 लाख से अधिक नए अंशधारकों को जोड़ा गया है। अटल पेंशन योजना में अंशधारकों के आंकड़े तीन करोड़ से अधिक  हो चुके है। 

  • Atal Pension Yojana के अंतर्गत जुड़े 3.2 करोड़ खातेधारकों में से 70 % खाते सार्वजानिक इलाको के बैंको के द्वारा खोले गए है और बाकि 19 % खाते ग्रामीण इलाको के बैंक द्वारा खोले गए है। इन  6 महीनो में इस योजना के अंतर्गत जुड़ने वाले खातेधारकों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है।
  • पिछले वित् वर्ष में  इस योजना के अंतर्गत लगभग 79.14 लाख नए सब्सक्राइबर जोड़े गए थे जिनमे से  28 % यानी 22.07 लाख सब्सक्राइबर भारतीय स्टेट बैंक द्वारा जोड़े गए और साथ ही  केनरा बैंक ने लगभग 5.89 लाख  नए सब्सक्राइबर और इंडियन बैंक ने 5.17 लाख नए सब्सक्राइबर जोड़े थे।

14वीं किस्त किसान सम्मान निधि लिस्ट लाभार्थियों की सूची हुई जारी

खाताधारकों की संख्या में हुई बढ़ोतरी

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं अटल पेंशन योजना को असंगठित क्षेत्र के कामगारों को रिटायरमेंट के बाद पेंशन प्रदान करने के उद्देश्य से आरंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी को एक निर्धारित समय तक निवेश करना होता है। 60 वर्ष की आयु के बाद निवेशक को प्रतिमाह पेंशन प्रदान की जाती है। पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा यह बताया गया है कि सन 2020–21 में अटल पेंशन योजना एवं नेशनल पेंशन सिस्टम के खाताधारकों की संख्या में 23% की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। 31 मार्च तक कुल खाताधारकों की संख्या बढ़कर 4.24 करोड़ हो गई है।

  • पीएफआरडीए के चेयरमैन सुप्रतिम बंद्योपाध्याय द्वारा बताया गया है कि पिछला वर्ष कोविड-19 संक्रमण के दौरान हुए लॉकडाउन की वजह से बहुत चुनौतीपूर्ण रहा है और देश के नागरिकों को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ा है लेकिन फिर भी APY तथा NPS खाताधारकों की संख्या में 23% की बढ़ोतरी हुई है।
  • Atal Pension Yojana में लगभग 33% ग्राहकों की बढ़ोतरी हुई है और लगभग 7700000 नए ग्राहक इस योजना से जुड़े हैं। 31 मार्च तक कुल खाताधारको की संख्या 2.8 करोड़ हो गई हैं। वित्त वर्ष 2020–21 में प्रबंधन के तहत कुल परिसंपत्ति 5.78 लाख करोड़ रुपए हो गई है।

Atal Pension Yojana लेनदेन की डिटेल

आप सभी लोग जानते हैं Atal Pension Yojana को असंगठित क्षेत्रों के नागरिकों के लिए आरंभ की गई थी। यह एक रिटायरमेंट पेंशन योजना है। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को प्रीमियम का भुगतान करना होता है। अब सरकार द्वारा अटल पेंशन योजना मोबाइल एप्लीकेशन आरंभ की गई है। इस मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से अब अटल पेंशन योजना के लाभार्थी हाल के पांच योग दानों की जांच निशुल्क कर सकते हैं। इसी के साथ लेन-देन डिटेल तथा ई PRAN भी डाउनलोड किया जा सकता है। अपनी लेनदेन की डिटेल देखने के लिए लाभार्थी अटल पेंशन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर भी जा सकते हैं। इस वेबसाइट पर जाकर उन्हें लॉग इन करना होगा। जिसके लिए उन्हें अपने PRAN और बचत बैंक खाते की डिटेल देनी होगी। यदि PRAN नंबर नहीं है तो लाभार्थी अपने नाम, खाता तथा जन्म तिथि के माध्यम से भी अपना अकाउंट लॉगिन कर सकता है।

 इस योजना के अंतर्गत आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80CCD(1) के अंतर्गत कर लाभ का भी प्रावधान है। उमंग ऐप के माध्यम से अटल पेंशन योजना के अंतर्गत लेनदेन की राशि, सदस्य राशि की कुल होल्डिंग, लेनदेन डिटेल आदि भी देखी जा सकती है।

अटल पेंशन योजना 52 लाख नए सब्सक्राइबर

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं अटल पेंशन योजना के अंतर्गत 60 वर्ष की आयु पूर्ण होने पर निवेशक को पेंशन प्रदान की जाती है। अटल पेंशन योजना के तहत लोगों की रूचि साल दर साल बढ़ती जा रही है। इस योजना के अंतर्गत कोविड-19 महामारी हिट वर्ष में भी शानदार नामांकन देखा गया है। इस नामांकन को देखते हुए यह निष्कर्ष निकाला जा सकता है कि अब आम आदमी बचत योजनाओं को लेकर ज्यादा चिंतित हो गया है और अपने भविष्य की सुरक्षा का महत्व समझ रहा है। 2020-21 के दौरान अब तक 52 लाख नए निवेशकों ने Atal Pension Yojana के अंतर्गत अपना पंजीकरण कराया है। जिसके तहत कुल नामांकन 31 दिसंबर 2020 तक 2.75 करोड़ को पार कर गया है।

  • भारतीय स्टेट बैंक द्वारा 15 लाख से अधिक नए अटल पेंशन योजना ग्राहकों का नामांकन किया गया है। जबकि अन्य बैंक जैसे कि केनरा बैंक, इंडियन बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ बरोड़ा, एयरटेल पेमेंट्स बैंक लिमिटेड, पंजाब नेशनल बैंक, एक्सिस बैंक लिमिटेड, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन ओवरसीज बैंक आदि द्वारा 1 लाख नए अटल पेंशन ग्राहकों का नामांकन किया गया है।
  • इस योजना की लोकप्रियता को देखते हुए पिया पीएफआरडीए अटल पेंशन योजना अभियान को और प्रचलित करेगी। प्रिंट तथा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया आदि के द्वारा इस योजना को और प्रचलित किया जाएगा।

Atal Pension Yojana के अंतर्गत अब तक के रजिस्ट्रेशन

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत अब तक 40 लाख से अधिक पंजीकरण हुए हैं तथा कुल अंशधारकों की संख्या 2.63 करोड़ के पार हो चुकी है। इस योजना के अंतर्गत 18 वर्ष 40 वर्ष की आयु का व्यक्ति निवेश कर सकता है और निवेशक की 60 वर्ष की आयु पूर्ण होने के बाद उन्हें पेंशन प्रदान की जाती है। यदि अंशधारक की मृत्यु 60 वर्ष से पहले हो जाती है तो पेंशन उनके जीवनसाथी को प्रदान की जाती है। यदि किसी व्यक्ति के पास नेट बैंकिंग की सुविधा उपलब्ध नहीं है तो जल्द उनके लिए भी अटल पेंशन योजना के अंतर्गत खाता खोलना आसान हो जाएगा।

पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी के द्वारा अटल पेंशन योजना को मौजूदा बचत खाताधारकों के ऑनबोर्डिंग के लिए वैकल्पिक चैनल शुरू करने की अनुमति प्रदान की गई है। अब खाताधारक किसी भी नेट बैंकिंग या मोबाइल ऐप का उपयोग किए बिना अटल पेंशन योजना के अंतर्गत अपना खाता खुलवा सकता है।

इस योजना का मुख्य उद्देश्य असंगठित क्षेत्रो के कामगार लोगो को पेंशन देकर भविष्य को सुरक्षित करना है तथा आत्मनिर्भर बनाना है| यह एक सामाजिक सुरक्षा योजना है जिसका उद्देश्य योजना में शामिल होने वाले लाभार्थियों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना है | PM Atal Pension Yojana के ज़रिये लोगो को सशक्त बनाना  है|

Atal Pension Yojana 60 वर्ष से पहले एग्जिट

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं अटल पेंशन योजना एक प्रकार की पेंशन है जो रिटायरमेंट के बाद प्रदान की जाती है। इस योजना का लाभ खाता धारक 60 वर्ष की आयु के बाद उठा सकता है। इसके लिए खाताधारक को 60 वर्ष की आयु तक कंट्रीब्यूशन की राशि प्रदान करनी होगी। अटल पेंशन योजना के अंतर्गत 60 वर्ष से पहले खाताधारक योजना से एग्जिट नहीं कर सकता। लेकिन कुछ खास परिस्थितियों में जैसे कि कोई बीमारी या फिर मृत्यु की स्थिति में अटल पेंशन योजना से एग्जिट किया जा सकता है।

अटल पेंशन योजना निकासी

  • 60 वर्ष की आयु पूरी होने पर: 60 वर्ष पूरे होने के बाद अटल पेंशन योजना से ग्राहक निकासी कर सकता है। इस स्थिति में ग्राहक को पेंशन निकासी के बाद पेंशन प्रदान की जाएगी।
  • सब्सक्राइबर की मृत्यु की स्थिति में: यदि सब्सक्राइबर की मृत्यु हो जाती है तो पेंशन की राशि सब्सक्राइब के पति या पत्नी को प्रदान की जाएगी। और यदि दोनों की मृत्यु हो जाती है तो पेंशन कॉरपस उनके नॉमिनी को लौटा दिया जाएगा।
  • 60 वर्ष की आयु से पहले निकासी: अटल पेंशन योजना से 60 वर्ष से पहले निकासी की अनुमति नहीं है। लेकिन कुछ असाधारण परिस्थितियों में विभाग द्वारा इसकी अनुमति दी गई है। जैसे कि यदि लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है या फिर किसी टर्मिनल रोक की स्थिति में।

अटल योजना के अंतर्गत डिफॉल की स्थिति में शुल्क

₹100 प्रति माह तक के कंट्रीब्यूशन के लिए₹1
₹101 से ₹500 प्रति माह के कंट्रीब्यूशन के लिए₹2
₹501 से ₹1000 प्रति माह के कंट्रीब्यूशन के लिए₹5
₹1001 से ऊपर के कंट्रीब्यूशन के लिए₹10
Atal Pension Yojana 2023

नेशनल पेंशन सिस्टम ट्रस्ट

साल की शुरुआत में पेंशन फंड नियामक और विकास प्राधिकरण द्वारा नेशनल पेंशन सिस्टम और अटल पेंशन योजना के ग्राहकों की शिकायत को हल करने के लिए एक लोकपाल नियुक्त किया गया है। कोई भी ग्राहक जिसकी शिकायत दर्ज करने के 30 दिन के अंदर हल नहीं की गई है या फिर प्रदान किए गए समाधान से वह संतुष्ट नहीं है तो वह एनपीएस ट्रस्ट के साथ शिकायत दर्ज कर सकता है। एनपीएस ट्रस्ट द्वारा शिकायत प्राप्त होने के 30 दिन के अंदर ग्राहक को जवाब दिया जाएगा और उनकी शिकायत का जल्द से जल्द हल किया जाएगा।

अटल पेंशन योजना के नियम

अटल पेंशन योजना एक सरकारी योजना है जो भारत के नागरिकों के लिए पेंशन की सुविधा प्रदान करती है। इस योजना के नियम निम्नलिखित हैं:

  1. इस योजना में, नागरिकों को उनकी आयु के अनुसार तीन श्रेणियों में विभाजित किया जाता है: 18-40 वर्ष, 40-60 वर्ष और 60-80 वर्ष।
  2. यह योजना सिर्फ उन नागरिकों के लिए है जो भारत के नागरिक होते हैं।
  3. नागरिकों को अपनी आयु के अनुसार एक निश्चित राशि का पेंशन मिलेगा। जैसे कि, 18 से 40 वर्ष की आयु वालों को 5,000 रुपये प्रति माह, 40 से 60 वर्ष की आयु वालों को 10,000 रुपये प्रति माह और 60 से 80 वर्ष की आयु वालों को 15,000 रुपये प्रति माह की पेंशन दी जाएगी।
  4. इस योजना में, नागरिकों को पेंशन की अवधि 60 साल तक होगी।
  5. यह योजना सभी नागरिकों के लिए उपलब्ध है जो न्यूनतम आयु सीमा के अंतर्गत आते हैं।
  6. नागरिकों को इस योजना के लिए आवेदन करने की आवश्यकता होगी।
  7. योजना में शामिल होने के नागरिकों के पास आयु प्रमाण पत्र, बैंक खाते का विवरण और आधार कार्ड जैसे आवश्यक दस्तावेज होने चाहिए।
  8. इस योजना में शामिल होने वाले नागरिकों की पेंशन सीधे उनके बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी।
  9. इस योजना में नागरिकों के लिए कोई स्वास्थ्य बीमा नहीं होगा।
  10. इस योजना में, नागरिकों को पेंशन निकासी के लिए 60 वर्ष की आयु पूरी करने की आवश्यकता होगी।
  11. इस योजना में नागरिकों को अपनी आयु के अनुसार निर्धारित पेंशन राशि के लिए प्रीमियम जमा करने की आवश्यकता होगी।
  12. इस योजना में नागरिकों को पेंशन की राशि के लिए नियमित रूप से प्रीमियम जमा करने की आवश्यकता होगी।
  13. अटल पेंशन योजना एक अच्छी सरकारी योजना है जो नागरिकों को उनकी आयु के अनुसार निर्धारित पेंशन राशि प्रदान करती है। यह योजना सभी भारतीयों के लिए उपलब्ध है जो न्यूनतम आयु सीमा के अंतर्गत आते हैं।
  14. अटल पेंशन योजना में नागरिकों को उनकी आयु के अनुसार निर्धारित पेंशन राशि प्रदान की जाती है। इसके अलावा, योजना के तहत समान उपलब्धियों के लिए विभिन्न पेंशन राशि भी होती है।
  15. इस योजना में नागरिकों को पेंशन निकासी के लिए नियमित रूप से प्रीमियम जमा करना होगा।
  16. योजना में प्रीमियम जमा करने के लिए विभिन्न विकल्प उपलब्ध होते हैं, जैसे कि मासिक, त्रैमासिक या वार्षिक भुगतान।
  17. इस योजना के तहत पेंशन के लिए निर्धारित प्रीमियम राशि को अधिकतम 10 वर्ष तक जमा किया जा सकता है।
  18. यदि नागरिक योजना को बंद करना चाहते हैं तो उन्हें उनके जमा किए गए प्रीमियम राशि के साथ संबंधित ब्याज भी वापस मिलेगा।
  19. अटल पेंशन योजना एक बहुत ही लाभदायक योजना है। यह उन लोगों के लिए बेहतर विकल्प होता है जो अपने भविष्य की चिंता करते हैं और स्वयं के लिए निर्धारित न्यूनतम आयु सीमा के अंतर्गत आते हैं।
  20. अटल पेंशन योजना में नागरिकों को पेंशन के लिए आवेदन करने के लिए वेबसाइट और मोबाइल एप्लीकेशन के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा उपलब्ध है।
  21. योजना के अंतर्गत नागरिकों को निजी निधि वित्तकों द्वारा पेंशन की प्रबंधन सेवाएं प्रदान की जाती हैं।
  22. अटल पेंशन योजना में नागरिकों को उनके भविष्य के लिए सुरक्षित और स्थिर पेंशन राशि प्रदान की जाती है।
  23. यह योजना सरकार द्वारा चलाई जाने वाली योजनाओं में से एक है जो नागरिकों को उनके भविष्य की चिंताओं से निपटने में मदद करती है।
  24. अटल पेंशन योजना के अंतर्गत नागरिक अपने जीवन के बाद भी स्वयं और अपने परिवार के लिए सुरक्षित होते हैं और अपनी संतुलित आर्थिक स्थिति बनाए रखने में सक्षम होते हैं।
  25. अटल पेंशन योजना ने लाखों लोगों को अपने भविष्य के लिए सुरक्षित बनाया है और उन्हें संतुलित आर्थिक स्थिति बनाए रखने में मदद की है। यह एक बहुत ही लाभदायक योजना है और सभी भारतीय नागरिक इसमें शामिल हो सकते हैं। इसलिए, यदि आप भी इस योजना से जुड़ना चाहते हैं, तो आप इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। अटल पेंशन योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं।

अटल पेंशन योजना ने देश के बड़े हिस्से के नागरिकों को सुरक्षित भविष्य के लिए उत्साहित किया है। यह एक सुविधाजनक और सुलभ योजना है जो लोगों को उनकी आर्थिक स्थिति के बारे में चिंता करने से बचाती है। इसके अंतर्गत नागरिकों को उनकी पेंशन राशि का निर्धारण करने में मदद मिलती है, जो वे उनके विवेक से चुन सकते हैं।

अगर आप भी अटल पेंशन योजना के तहत पेंशन के लिए आवेदन करना चाहते हैं, तो आपको इस योजना के लिए योग्य होना होगा। इसके लिए आपकी उम्र 18 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए और आपको अपनी जीवन बीमा नंबर की आवश्यकता होगी। इसके अलावा, आपको अपनी आय के आधार पर निश्चित सीमा के अंदर होना चाहिए।

अटल पेंशन योजना एक सरल और सुविधाजनक योजना है जो नागरिकों को उनके भविष्य की सुरक्षा और आर्थिक स्थिति को सुनिश्चित करने में मदद करती है।

अटल पेंशन योजना में आवेदन करने के लिए आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होती है:

  1. आधार कार्ड
  2. बैंक खाते का विवरण
  3. सेल्फ अटेस्टेड फोटो

अटल पेंशन योजना में आवेदन करने के लिए आप अपने निकटतम बैंक शाखा में जा सकते हैं और आवेदन पत्र भर सकते हैं। आप डिजिटल प्लेटफार्म के माध्यम से भी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

आपको अटल पेंशन योजना के तहत पेंशन के लिए नियमित भुगतान करने की आवश्यकता होगी। आप अपने पेंशन का भुगतान मासिक, त्रैमासिक या वार्षिक भी कर सकते हैं।

इस योजना के अंतर्गत आप न्यूनतम 18 वर्ष की उम्र से शामिल हो सकते हैं और आपकी आय इस योजना के अंतर्गत पेंशन की राशि के निर्धारण में एक महत्वपूर्ण तत्व होती है। इस योजना का उद्देश्य सभी लोगों को एक सुरक्षित और स्वतंत्र भविष्य की तरफ अग्रसर करना है।

परम्परागत कृषि विकास योजना 

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत कर लाभ

नेशनल पेंशन स्कीम की तरह ही यदि आप Atal Pension Yojana में निवेश करते हैं तो आपको कर लाभ प्रदान किए जाएंगे। यह कर लाभ इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80 CCD (1B) के अंतर्गत प्रदान किए जाएंगे। सेक्शन 80 CCD (1B) के अंतर्गत निवेशक को ₹50000 की इनकम टैक्स डिडक्शन प्रदान की जाएगी।

Atal Pension Yojana Apply

अटल पेंशन योजना में शामिल होने के लिए लाभार्थियों का बैंक खाता होना अनिवार्य  है तथा बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए | जो लोग आयकर दाता है तथा सरकारी नौकरी वाले है वो लोग इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते है |जो भी इच्छुक लाभार्थी है वो भारत देश के किसी भी राष्ट्रीयबैंक में जाकर अटल पेंशन योजना का खाता खोल सकते है|

अटल पेंशन योजना नई अपडेट

इस योजना में अब साल में किसी भी समय पेंशन को बढ़ाया या घटाया जा सकेगा। इस नई सुविधा से Atal Pension Yojana में रजिस्टर्ड 2.28 करोड़ सब्सक्राइबर्स को लाभ होगा। यह नई सुविधा एक जुलाई से प्रभावी हो गई है। PFRDA ने सभी बैंकों को साल में किसी भी समय पेंशन राशि में कमी या वृद्धि को प्रोसेस करने का निर्देश दिया है। हालांकि, एक वित्त वर्ष में एक बार ही इस सहूलियत का लाभ उठाया जा सकता है।

योजना में किया जाने वाला निवेश

इस योजना के अंतर्गत अगर कोई व्यक्ति रोज़ाना 7 रूपये बचाकर महीने का 210 रूपये का निवेश करता है तो वह सालाना 60 हज़ार रूपये तक पेंशन प्राप्त कर सकते है यह निवेश व्यक्ति को 18 वर्ष की आयु से करना होगा |इस योजना की खास बात यह है कि इसमें इनकम टेक्स एक्ट के सेक्शन 80 के तहत निवेश करने पर टैक्स छूट का भी लाभ मिलता है |यह योजना राष्ट्रीय पेंशन योजना के ज़रिये पेंशन फण्ड नियामक और विकास प्राधिकरण द्वारा संचालित की जा रही है | अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते है तो इस योजना के तहत आवेदन कर सकते है |

APY 2023 में निवेश करने के बाद लाभार्थियों को 60 वर्ष की आयु के पश्चात् हर महीने पेंशन प्राप्त होगी | इस पेंशन से लाभार्थी अपना अच्छे से जीवनयापन कर सकते है | इस योजना के अंतर्गत  लाभार्थी  की मृत्यु हो जाती है तो लाभार्थी को दी जाने वाली  पेंशन धनराशि  उम्मीदवार की  अर्धांगिनी (पत्नी) को दी जाएगी तथा दोनों (पति ,पत्नी )की मृत्यु हो जाती है तो ये पेंशन  धनराशि  उल्लेखित नॉमिनी को दी जाएगी| Pension Fund Regulatory and Development Authority (PFRDA) एक नोडल एजेंसी की तरह कार्य करती है|

प्रधानमंत्री अटल पेंशन योजना

केंद्र सरकार की ‘अटल पेंशन योजना’ को 5 साल पूरे हो चुके है | इस योजना को पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (PFRDA) द्वारा संचालित किया जाता है। PFRDA के अनुसार इस योजना के अंतर्गत अब तक 2.23 करोड़ महिला और पुरुष लोग जुड़े हैं | इस प्रधानमंत्री अटल पेंशन योजना के तहत देश के 60 वर्ष से अधिक आयु की महिलाओ और पुरुषो को इन 5 सालो हर महीने पेंशन प्रदान की गयी है इस वर्ष 9 मई 2020 को योजना के तहत पंजीकृत लोगों की संख्या बढ़कर 2,23,54,028 पहुंच गयी | यह योजना देश के लोगो के लिए बहुत ही लाभकारी साबित हुई है |इस योजना के तहत इन पांच सालो में पुरूष-महिला का अनुपात 57:43 रहा है |

सब्सक्राइबर सूचना अलर्ट

  • अटल पेंशन योजना के अंतर्गत ग्राहकों को खाते में शेष राशि, अंशदान क्रेडिट आदि से संबंधित जानकारी एसएमएस के माध्यम से प्रदान की जाती है।
  • लाभार्थी गैर वित्तीय विवरण जैसे कि नामांकित व्यक्ति का नाम, पता, फोन नंबर आदि को भी एसएमएस के माध्यम से बदल सकता है।
  • सभी ग्राहक अपने मोबाइल फोन के माध्यम से सदस्यता, खाते के ऑटो डेबिट और खाते में शेष राशि से संबंधित जानकारी एसएमएस के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं।

Atal Pension Yojana नामांकन एवं भुगतान

  • सभी पात्र नागरिक खाते में ऑटो डेबिट सुविधा उपलब्ध करवाने के पश्चात अटल पेंशन योजना में शामिल हो सकता है।
  • खाताधारक को लेट पेमेंट पेनेल्टी से बचने के लिए निर्धारित तिथि पर अपने बचत खाते में आवश्यक शेष राशि रखनी अनिवार्य है।
  • पहले कंट्रीब्यूशन के भुगतान के आधार पर ही प्रतिमाह मासिक अंशदान भुगतान करना होता है।
  • यदि लाभार्थी द्वारा समय से भुगतान नहीं किया जा रहा है तो इस स्थिति में अकाउंट को बंद कर दिया जाएगा और यदि भारत सरकार द्वारा दिया गया कोई योगदान है तो उसे भी जप्त कर लिया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए यदि खाताधारक द्वारा कोई भी गलत जानकारी प्रदान की गई है तो इस स्थिति में सरकारी योगदान को दंडमय ब्याज के साथ जप्त कर लिया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आधार कार्ड होना अनिवार्य है।
  • लाभार्थी 1000 से 5000 के बीच की पेंशन प्राप्त करने का ऑप्शन का चयन कर सकता है। जिसके लिए लाभार्थी को समय से अपना कंट्रीब्यूशन जमा करना होगा।
  • लाभार्थी द्वारा पेंशन की राशि को घटाया या बढ़ाया भी जा सकता है।
  • पेंशन की राशि को केवल अप्रैल माह में ही घटाया या बढ़ाया जा सकता है।
  • प्रत्येक ग्राहक को अटल पेंशन योजना में शामिल होने के पश्चात एक पावती पर्ची प्रदान की जाएगी जिसमे निश्चित रूप से गारंटी कृत पेंशन राशि, योगदान भुगतान की दे तिथि आदि रिकॉर्ड की जाएगी।

Atal Pension Yojana नामांकन एजेंसी

  • बैंक, पीओपी या एग्रीगेटर के रूप में परिचालन गतिविधियों के लिए बीसी/मौजूदा गैर बैंकिंग एग्रीगेटर, माइक्रो बीमा एजेंटों और म्यूचुअल फंड एजेंटों को इनेबलर के रूप में नियुक्त कर सकता है।
  • बैंक द्वारा उनके साथ पीएफआरडीए/सरकार से प्राप्त प्रोत्साहन को साझा किया जा सकता है।
  • इस योजना का संचालन पेंशन फंड रेगुलेटरी एवं डेवलपमेंट अथॉरिटी के द्वारा किया जाता है।
  • एनपीएस के संस्थागत ढांचे का उपयोग ए पी वाई के अंतर्गत ग्राहकों को नामांकित करने के लिए किया जाएगा।
  • अटल पेंशन योजना के ऑफर डॉक्यूमेंट को अकाउंट ओपनिंग फॉर्म के साथ पीएफआरडीए द्वारा तैयार किया जाएगा।

अटल पेंशन योजना की फंडिंग

  • सरकार द्वारा पेंशन धारकों को निश्चित पेंशन गारंटी प्रदान की जाएगी।
  • इसके अलावा सरकार द्वारा कुल योगदान का 50% रहीटूहिस्सा या फिर ₹1000 प्रति वर्ष (जो भी कम हो) का भुगतान किया जाएगा।
  • लोगों को अटल पेंशन योजना में शामिल करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए योगदान संग्रह एजेंसी को प्रोत्साहन सहित प्रचार और विकास गतिविधियों की प्रतिपूर्ति भी की जाएगी।

Atal Pension Yojana के कुछ महत्वपूर्ण निर्देश

  • Atal Pension Yojana के अंतर्गत पेंशन की राशि का 50% हिस्सा या ₹1000 जो भी कम हो केंद्र सरकार द्वारा प्रत्येक लाभार्थी को प्रदान किया जाएगा।
  • यह लाभ उन सभी लाभार्थियों को प्रदान किया जाता है जिन्होंने 1 जून 2015 से 31 मार्च 2016 के बीच इस योजना के अंतर्गत आवेदन किया है एवं किसी अन्य सोशल सिक्योरिटी स्कीम के लाभार्थी एवं इनकम टैक्स पेयर नहीं है।
  • अटल पेंशन योजना को आधार एक्ट के सेक्शन 7 के अंतर्गत शामिल कर लिया गया है। अब इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आधार नंबर देना अनिवार्य है।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक के पास बचत खाता होना अनिवार्य है।
  • आवेदन के समय आवेदक को नॉमिनी से संबंधित जानकारी जमा करनी होगी।
  • इस योजना का लाभ केवल भारत के मूल निवासी प्राप्त कर सकते हैं। यदि कोई लाभार्थी इस पेंशन की अवधि के दौरान non-resident हो जाता है तो उसका खाता बंद कर दिया जाएगा और उसके द्वारा जमा की गई राशि को वापस कर दिया जाएगा।
  • उपभोक्ता द्वारा पेंशन की राशि को बढ़ाया या घटाया भी जा सकता है।
  • पेंशन को अपग्रेड करने के लिए अंशदाताओं को 8% प्रतिवर्ष की दर से अनुदान की अंतर की राशि का भुगतान करना होगा।
  • यदि अंशदाता पेंशन की राशि को घटना चाहता है तो इस स्थिति में अंशदाता से एकत्र किए गए अंशदान की अतिरिक्त राशि उत्पन्न रिटर्न के साथ सब्सक्राइबर को वापस कर दी जाएगी।
  • त्रुटि के मामले के अलावा अपग्रेडेशन या डाउनग्रेडेशन के लिए ग्राहक को ₹50 के शुल्क का भुगतान करना होगा जो कि POP – APYSP एवं सीआरए द्वारा समान रूप से साझा किया जाएगा।

अटल पेंशन योजना मुख्य तथ्य

  • अटल पेंशन योजना को केंद्र सरकार द्वारा मई 2015 में आरंभ किया गया था।
  • इस योजना के माध्यम से आप रिटायरमेंट के बाद भी हर महीने पेंशन प्राप्त कर सकते हैं।
  • यह योजना सभी असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए है।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपको 20 वर्ष तक निवेश करना होता है।
  • यह निवेश आप 18 वर्ष की आयु से लेकर 40 वर्ष की आयु तक कर सकते हैं।
  • 60 वर्ष की उम्र के बाद आपको पेंशन की राशि प्रदान की जाती है।
  • इस योजना के अंतर्गत 1000, 2000, 3000 और ₹5000 की पेंशन प्राप्त की जा सकती है।
  • पेंशन की रकम इस बात पर निर्भर करती है कि आपने प्रतिमाह कितने प्रीमियम का भुगतान किया है और किस उम्र से निवेश करना आरंभ किया है।
  • यदि आप की उम्र 20 वर्ष है और आप ₹2000 की पेंशन प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको प्रतिमाह ₹100 का प्रीमियम देना होगा और यदि आप ₹5000 की पेंशन प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको प्रतिमाह ₹248 का प्रीमियम देना होगा।
  • यदि आप की उम्र 35 वर्ष है और आपको ₹2000 की पेंशन प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको ₹362 का प्रीमियम देना होगा और ₹5000 की पेंशन प्राप्त करने के लिए ₹902 का प्रीमियम देना होगा।
  • आपके निवेश के साथ ही इस योजना के अंतर्गत 50% रकम का भुगतान सरकार द्वारा भी किया जाएगा।
  • यदि अकाउंट होल्डर की 60 वर्ष की आयु से पहले मृत्यु हो जाती है तो इस योजना का लाभ अकाउंट होल्डर के परिवार को प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए बैंक खाता होना अनिवार्य है।
  • अटल पेंशन योजना का लाभ केवल वही नागरिक उठा सकते हैं जो इनकम टैक्स स्लैब से बाहर है।

Atal Pension Yojana 2023 के लाभ

  • इस योजना का लाभ केवल भारत के लोग ही उठा सकते है |
  • Atal Pension Yojana के तहत 60 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद ही केंद्र सकरार द्वारा 1000 रूपये से लेकर 5000 रूपये तक की मासिक पेंशन प्रदान की जाएगी |
  • Atal Pension Yojana के तहत पेंशन की धनराशि लाभार्थियों के द्वारा किये गए निवेश तथा आयु के आधार पर ही प्रदान की जाएगी |
  • पीएफ खाते की ही तरह सरकार इस पेंशन योजना में अपनी ओर से भी अंशदान देगी।
  •  आप हर माह 1000 रूपए की पेंशन चाहते हैं और आपकी आयु 18 वर्ष है, तो आपको 42 साल तक हर माह  210 रूपये का प्रीमियम हर महीने  जमा करवाना होगा |
  • वहीं 40 साल की उम्र वालों लोगो को  297 से लेकर  1 ,454 रूपये तक का प्रीमियम देना होगा | इसके बाद ही वह APY 2023 का लाभ उठा सकते है |

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत कंट्रीब्यूशन ना किए जाने की स्थिति

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत यदि आवेदक कंट्रीब्यूशन नहीं करता है तो उसका अकाउंट 6 महीने बाद फ्रीज कर दिया जाएगा। यदि इसके बाद भी निवेशक ने कोई निवेश नहीं किया है तो 12 महीने के बाद उसका अकाउंट डीएक्टिवेट कर दिया जाएगा और 24 महीने के बाद उसका अकाउंट बंद कर दिया जाएगा। यदि आवेदक समय से भुगतान नहीं कर पाता है तो उसे पेनल्टी देनी होगी। यह पेनल्टी प्रतिमाह की ₹1 से लेकर ₹10 तक है।

APY के तहत सरकार का सह-समन्वय प्राप्त करने के लिए कौन पात्र नहीं है?

किसी भी वैधानिक सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के लाभार्थी APY के तहत सरकारी सह-योगदान का लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र नहीं हैं। नीचे, हमने कुछ अधिनियमों को साझा किया है, जिसके लिए सरकार का समन्वय प्रदान नहीं किया गया है-

  • कर्मचारी भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम, 1952।
  • कोयला खान भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम, 1948।
  • सीमन्स प्रोविडेंट फंड एक्ट, 1966
  • असम चाय बागान भविष्य निधि और विविध प्रावधान, 1955।
  • जम्मू कश्मीर कर्मचारी भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम, 1961।
  • कोई अन्य वैधानिक सामाजिक सुरक्षा योजना।
  • APY योगदान चार्ट

Atal Pension Yojana 2023 के ज़रूरी दस्तावेज़ (पात्रता)

  • आवेदक भारतीय नागरिक होना चाहिए |
  • उम्मीदवार की आयु 18 से 40 वर्ष होनी चाहिए |
  • आवेदक का बैंक खाता होना चाहिए तथा बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए |
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर 
  • पहचान पत्र
  • स्थायी पता का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटो

APY Scheme Contribution Chart

Age of entryYears of contributionFirst Monthly pension of Rs.1000/-Second Monthly pension of Rs.2000/-Third Monthly pension of Rs.3000/-Fourth Monthly pension of Rs.4000/-Fifth Monthly pension of Rs.5000/-
18424284126168210
19414692138183224
204050100150198248
213954108162215269
223859117177234292
233764127192254318
243670139208277346
253576151226301376
263482164246327409
273390178268356446
283297194292388485
2931106212318423529
3030116231347462577
3129126252379504630
3228138276414551689
3327151302453602752
3426165330495659824
3525181362543722902
3624198396594792990
37232184366548701087
38222404807209571196
392126452879210541318
402029158287311641454
अटल पेंशन योजना 2023

अटल पेंशन योजना 2023 के लिए आवेदन कैसे करे?

  • जो इच्छुक व्यक्ति प्रधानमंत्री अटल पेंशन योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं वह सर्वप्रथम किसी भी राष्ट्रीय बैंक में अपना बचत खाता खुलवा ले |
  • उसके बाद प्रधानमंत्री अटल पेंशन योजना के लिए आवेदन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे आधार कार्ड ,मोबाइल नंबर आदि भर दीजिये
  • आवेदन फॉर्म भरने के पश्चात् बैंक मैनेजर के पास जमा कर दीजिये |इसके बाद आपके सभी पत्रों का सत्यापन कर अटल पेंशन योजना के अंतर्गत आपका बैंक खाता खोल दिया जायेगा |

मोबाइल ऐप या नेट बैंकिंग के बिना Atal Pension Yojana के अंतर्गत अकाउंट खोलने की प्रक्रिया

वह सभी लोग जिनके पास बैंक खाता है लेकिन वह नेट बैंकिंग या मोबाइल ऐप का उपयोग नहीं कर रहे हैं। जल्द ही अटल पेंशन योजना के अंतर्गत उनके लिए खाता खोलना आसान हो जाएगा। जल्द ही पेंशन फंड नियामक और विकास प्राधिकरण द्वारा ऑनबोर्डिंग प्रक्रिया को आसान बनाया जाएगा जिसके अंतर्गत मौजूदा बचत खाताधारकों को ऑन बोर्डिंग के लिए वैकल्पिक चैनल शुरू करने की अनुमति दी गई है। इस चैनल के माध्यम से अब बिना मोबाइल ऐप तथा नेट बैंकिंग के खाता धारक अटल पेंशन योजना के अंतर्गत अपना खाता खोल सकता है।

  • पहले अटल पेंशन योजना के अंतर्गत खाता सिर्फ मोबाइल ऐप तथा नेट बैंकिंग के माध्यम से ही खाता खोला जा सकता था। लेकिन अब इस नए कदम की वजह से खाताधारक बिना मोबाइल ऐप तथा नेट बैंकिंग के अपना खाता खोल सकते हैं।
  • यदि आप अटल पेंशन योजना के अंतर्गत खाता खोलना चाहते हैं तो आपको बैंक से संपर्क करना होगा जहां आपका बचत खाता है। वहां से आपको पंजीकरण फॉर्म प्राप्त करना होगा। इसके बाद आपको पंजीकरण फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी भरकर और सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को पंजीकरण फॉर्म से अटैच कर करके यह पंजीकरण फॉर्म उसी बैंक में जमा कर देना होगा। आपको फॉर्म साथ अपना एक वैध फोन नंबर भी देना होगा जिस पर आपको सभी s.m.s. प्राप्त होंगे।

अटल पेंशन योजना कंट्रीब्यूशन चार्ट डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको APY-कंट्रीब्यूशन चार्ट के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने Contribution Chart खुल कर आ जाएगा।
  • आप इस चार्ट में Contribution Detalis चेक कर सकते हैं।
  • आप इस चार्ट को डाउनलोड करके फ्रेंड भी कर सकते हैं।

Atal Pension Yojana की एंडोवमेंट डिटेल देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको अटल पेंशन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खोल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Enrollment Details के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको निम्नलिखित विकल्प खुल कर आएंगे।
    • जेंडर वाइज एनरोलमेंट
    • Age वाइज एनरोलमेंट
    • स्टेट/यूटी वॉइस एनरोलमेंट
    • पेंशन अमाउंट वाइज एनरोलमेंट
    • बैंक वॉइस एनरोलमेंट
  • आप इन विकल्प के माध्यम से संबंधित जानकारी देख सकेंगे।

सर्विस प्रोवाइडर से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको अटल पेंशन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
Atal Pension Yojana
  • अब आपके सामने होम पेज खोल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको APY Service Provider Corner के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप सर्विस प्रोवाइडर से संबंधित जानकारी देख सकेंगे।

APY e -PRAN/ट्रांजैक्शन स्टेटमेंट व्यू देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको अटल पेंशन योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
APY e -PRAN
  • अब आपके सामने होम पेज खोल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको APY e -PRAN/ट्रांजैक्शन स्टेटमेंट व्यू के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपनी Category का चयन करना होगा तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको पूछी गई जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको Submit के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

महत्वपूर्ण फॉर्म्स

APY Subscriber Registration FormClick Here
APY Subscriber Registration Form – Swavalamban Yojana SubscribersClick Here
Subscriber details Modification and Change of APY-SP FormClick Here
Form to upgrade/downgrade pension amount under APYClick Here
APY Death & Spouse Continuation FormClick Here
Voluntary Exit APY Withdrawal FormClick Here
APY Application for Banks to be registered under Atal Pension YojanaClick Here
APY – Service Provider Registration FormClick Here
Subscriber Grievance Registration(G1) Form for APY SubscriberClick Here
Atal Pension Yojana 2023 Important links

Important Link

Atal Pension Yojana FAQs

Leave a Comment